Assembly Banner 2021

राज्यपाल से दुर्व्यवहार: उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर ने कांग्रेस से कहा- हिमाचल प्रदेश को बिहार न बनाएं

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के विधानसभा (Assembly) में राज्यपाल से दुर्व्यहार के बाद सियासत तेज हो गई है. उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर ने दो टूक शब्दों में कहा कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के इतिहास में यह दिन बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण था.

  • Share this:
देहरा. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के विधानसभा (Assembly) में राज्यपाल से दुर्व्यहार के बाद सियासत तेज हो गई है. उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर ने दो टूक शब्दों में कहा कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के इतिहास में यह दिन बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण था. कांग्रेस विधायकों ने नेता प्रतिपक्ष के साथ मिलकर राज्यपाल के साथ दुर्व्यवहार किया है. उन्होंने कहा कि इस प्रकार की घटना पहले कभी नहीं हुई. यह बड़ी शर्मशार करने वाली बात है. हम सभी इस घटना से दुखी हैं व इस प्रकार की चीजें नहीं होनी चाहिए.  हिमाचल प्रदेश देवभूमि के साथ साथ वीरभूमि भी है. यहां पर बिहार (Bihar) जैसे कृत्य शर्मनाक बात है.

बिक्रम ठाकुर ने नेता प्रतिपक्ष द्वारा सत्तापक्ष पर लगाए आरोपों को नकारते हुए कहा कि हमने तो नहीं कहा था उनको की वह कागज फैंके व धक्के लगाएं.  मुकेश अग्निहोत्री को जवाब देते हुए बिक्रम ने कहा कि वह ऐसी शर्मनाक बातें न करें. एक तरफ कांग्रेस राज्यपाल के अभिभाषण की प्रतियों को कचरा बताती है और दूसरी तरफ पूरे अभिभाषण को पढ़ने की वकालत कर रही है. अपने गृह विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत गांव मलोट व हलेड़ में आयोजित कार्यक्रम के बाद उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि पंचायती राज संस्थाओं के चुनावों में पूर्णतया पिट चुकी कांग्रेस सुर्खियों में बने रहने के लिए इस तरह के कृत्यों को अंजाम दे रही है, जिसे प्रदेश की जनता और सरकार कतई सहन नहीं करेगी.

नेता प्रतिपक्ष पर लगाए आरोप
बिक्रम ठाकुर ने कहा विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री अपने आप को मुख्यमंत्री और राज्यपाल से भी ऊपर समझ रहे हैं, लेकिन उन्हें यह मालूम होना चाहिए कि वे कानून से ऊपर नहीं हैं. उन्हें विपक्ष के नेता का दर्जा देकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उदारता दिखाई है, लेकिन उनके कारनामों से ऐसा प्रतीत होता है कि वे अब इस दर्जे के लायक रहे हैं.  कांग्रेस वर्ष 2022 के चुनावों में अपनी हार सामने देखकर बौखला गई है. लोकसभा, विधानसभा उपचुनाव तथा पंचायती राज संस्थाओं में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की लोकप्रियता तथा चुनावों में हारने के उपरांत कांग्रेस नगर निगम के चुनावों में भी पराजित होगी.
(देहरा से ब्रजेश्वर साकी का इनपुट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज