आपदा फंड से हिमाचल सरकार ने 16 मोबाइल फोन खरीदे, नोडल अफसरों को दिए

कुछ समय पहले उन्होंने बच्चे से मोबाइल वापस ले लिया जिससे वह नाराज हो गया.
कुछ समय पहले उन्होंने बच्चे से मोबाइल वापस ले लिया जिससे वह नाराज हो गया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सरकार की ओर से 16 मोबाइल खरीदे और अधिकारियों को दिए गए हैं. प्रदेश में आपातकालीन केंद्र का 1070 और जिले के आपातकालीन केंद्रों का टोल फ्री नंबर 1077 है.

  • Share this:
शिमला. कोरोना वायरस (Corona Virus) से जुड़ा मामलों पर हिमाचल प्रदेश सरकार लगातार अपने फैसले पर घिरती जा रही है. शुरु में शराब के ठेके खोलने पर विवाद हुआ था. अब आपदा फंड से नोडल अधिकारियों (Nodal Officers) को फोन देने पर सरकार घिर गई है. सरकार की ओर से तर्क दिया गया है कि प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी आपातकालीन संचालन केंद्रों (Emergency centers) के मोबाईल फोन नेटवर्क को हिमाचल प्रदेश आपातकालीन संचालन केंद्र मैनुअल- 2011 के प्रावधान के अनुसार और अधिक सुदृढ़ करने का फैसला लिया है.

ये फोन अस्थाई रूप से राज्य सरकार द्वारा नियुक्त किए गए नोडल अधिकारियों को देश के विभिन्न भागों में फंसे हिमाचली और अन्य फंसे हुए लोगों के आवागमन की सुविधा के लिए अन्य राज्यों के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए प्रदान किए गए हैं. भारत सरकार के राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण ने प्रदेश के आपातकालीन संचालन केंद्रों को सुदृढ़ करने के लिए 20 लाख रुपये की धनराशि जारी की है।

संभालना मुश्किल हो रहा था
राज्य सरकार ने मोबाइल खरीदने को लेकर हो रही किरकिरी पर बयान जारी किया है कि जब इन नोडल अधिकारियों को नियुक्त किया था, उस समय उनके व्यक्तिगत मोबाइल फोन कॉल्स, व्हाट्सऐप और एसएमएस से भर गए और उनके लिए इन सभी को संभालना मानवीय रूप से मुश्किल हो रहा था. इस स्थिति में नोडल अधिकारियों को तत्काल कॉल प्राप्त करना और सेवाएं प्रदान करना मुश्किल हो रहा था, अब संचार की इस अतिरिक्त सुविधा के साथ इन अधिकारियों ने अपना कार्य और विभिन्न राज्य सरकारों के साथ सम्पर्क स्थापित करना शुरू कर दिया है. उन्होंने अपने समकक्षों के साथ अन्य राज्यों में फंसे हुए हिमाचलियों और प्रदेश में अन्य राज्यों के निवासियों की सूची सांझा की है. उन्होंने राज्यों से आग्रह किया है कि वह अब तक पंजीकृत हिमाचलियों को जल्द प्रदेश वापस की सुविधा प्रदान करें.
17 मोबाइल खरीदे और अधिकारियों को दिए गए


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सरकार की ओर से 16 मोबाइल खरीदे और अधिकारियों को दिए गए हैं. इनकी कीमत 17 हजार रुपये के करीब है. प्रदेश में आपातकालीन केंद्र का 1070 और जिले के आपातकालीन केंद्रों का टोल फ्री नंबर 1077 है.

ये भी पढ़ें: मंडी: 16 साल से लापता था शख्स, लॉकडाउन ने पहुंचाया घर, परिवार की आंखें हुई नम

COVID-19: पंजाब से शिमला लौटी महिला की अस्थमा से मौत, सैंपल की जांच नेगेटिव

कांगड़ा: ट्रक और सूमों में आमने-सामने से भिड़ंत, दो युवकों की मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज