सुर्खियां: चिट्टे की तलब मिटाने के लिए ठगी और हिमाचल में मॉनसून

शिमला के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज में किडनी ट्रांसप्लांट को शुरू करने को लेकर नई मुसीबत खड़ी हो गई है. किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर आईजीएमसी की टीम और एम्स के डॉक्टर तैयार है, मगर अब यहां पर किडनी ट्रांसप्लांट करवाने को लेकर मरीजों को भरोसा नहीं हो रहा है.

News18 Himachal Pradesh
Updated: June 21, 2019, 7:20 AM IST
सुर्खियां: चिट्टे की तलब मिटाने के लिए ठगी और हिमाचल में मॉनसून
सांकेतिक तस्वीर.
News18 Himachal Pradesh
Updated: June 21, 2019, 7:20 AM IST
अमर उजाला ने लिखा है कि चिट्टे के नाम से कुख्यात हेरोइन जैसे घातक नशे की तलब मिटाने को अब शहर के कुछ नशेड़ी युवा दुकानों में ठगी व जालसाजी पर उतर आए हैं. इस बात का खुलासा तब हुआ, जब एक नशेड़ी युवा शहर के ही एक नामी इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम से दुकानदार को फर्जी चेक थमाकर तीन एयर कंडीशनर (एसी) उड़ा ले गया. करीब एक लाख की कीमत से ऊपर के इन एसी को इस युवक ने शहर में ही कुछ लोगों को औने-पौने दाम पर बेच भी डाला. पुलिस सूत्रों के अनुसार जिन्हें ये एसी बेचे गए, उनके साथ इस युवक का नशे को लेकर लेन-देन सामने आया है. फिलहाल पुलिस ने दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की है. जानकारी के मुताबिक बीते रोज रोटरी चौक स्थित एक शोरूम में एक युवक एसी खरीदने आया। युवक ने एक विंडो एसी पसंद किया, जिसके भुगतान की एवज में युवक ने शोरूम में मौजूद कर्मियों को एक्सिस बैंक का एक फर्जी चेक थमा दिया. उसके बाद वही युवक दूसरे दिन दो ब्रांडेड स्पिलट एसी ले गया और उसी तरह फर्जी चेक के जरिये भुगतान कर दिया. शोरूम के मालिक ने जब उन चेक की जांच की तो वे फर्जी निकले, जिस पर दुकानदार ने अपने स्तर पर युवक को धरा और पुलिस के हवाले किया.

हिमाचल में मॉनसून
दिव्य हिमाचल ने लिखा है कि हिमाचल प्रदेश में मानसून इस बार एक सप्ताह देरी से पहुंचेगा. मौसम विभाग की मानें तो राज्य में जुलाई माह के पहले सप्ताह के दौरान ही मानसून दस्तक देगा. हालांकि विभाग द्वारा राज्य में मानसून के जल्द दस्तक देने को पूर्वानुमान लगाया जा रहा था, मगर पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर पड़ने से राज्य में अब मानसून के एक सप्ताह देरी से पहुंचने की संभावना जताई जा रही है. हिमाचल प्रदेश में बीते वर्ष मानसून ने 27 जून तक दस्तक दे दी थी. राज्य में मानसून सामान्य जून माह के आखिरी सप्ताह के दौरान पहुंच जाता है, मगर इस बार जनता को अभी और इंतजार करना होगा. इस साल केरल में मानसून के जल्द दस्तक देने से हिमाचल में भी मानसून के जल्द पहुंचने की संभावना जताई जा रही थी. विभाग ने प्रदेश में 18 जून तक प्री-मानसून की उम्मीदें जताई थीं। वहीं विभाग ने राज्य में मानसून के भी जल्द पहुंचने का पूर्वानुमान लगाया था. विभाग ने राज्य में 25 व 26 जून तक मानसून के पहुंचने की संभावना जताई थी, मगर रफ्तार धीमी पड़ने से अब राज्य में मानसून के एक सप्ताह देरी से पहुंचने की उम्मीद है. मौसम विभाग के निदेशक डा. मनमोहन सिंह ने बताया कि हिमाचल में जुलाई माह के पहले सप्ताह के दौरान दस्तक देगा. पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर पड़ने से मानसून की रफ्तार भी धीमी हो गई है. यही वजह है कि इस बार राज्य में मानसून जुलाई तक ही पहुंचेगा. हिमाचल प्रदेश में मानसून सामान्य तौर पर जून माह के आखिर तक पहुंच जाता था.

कांगड़ा एयरपोर्ट का विस्तार

दैनिक जागरण ने लिखा है कि कांगड़ा एयरपोर्ट के विस्तार से पठानकोट-मंडी राष्ट्रीय राजमार्ग प्रभावित नहीं होगा। मार्ग के साथ एयरपोर्ट प्रशासन सुरक्षा दीवार लगाएगा. विस्तारीकरण केवल सड़क के ऊपरी हिस्से में ही होगा यानी निचले हिस्से में रहने वाले लोगों को विस्थापन का दंश नहीं झेलना पड़ेगा. यह फैसला वीरवार को राजस्व विभाग व एयरपोर्ट प्रशासन के अधिकारियों की डीसी कांगड़ा की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया. मौजूदा समय में एयरपोर्ट का रनवे 700 मीटर है और इसे 1370 मीटर किया जाना है. विस्तारीकरण के लिए मई में प्रदेश सरकार ने सैद्धांतिक मंजूरी देते हुए जिला प्रशासन को भूमि अधिग्रहण के लिए रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए थे और वीरवार को इस संबंध में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया है. एयरपोर्ट के आसपास बहुमंजिला इमारतों के निर्माण और मोबाइल फोन टावर लगाने पर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने प्रतिबंध लगाया है. विस्तारीकरण की योजना के बाद तय हुआ था कि यह आदेश पुराना मटौर तक लागू होगा.

किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर नई मुसीबत
दैनिक भास्कर ने लिखा है कि शिमला के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज में किडनी ट्रांसप्लांट को शुरू करने को लेकर नई मुसीबत खड़ी हो गई है। किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर आईजीएमसी की टीम और एम्स के डॉक्टर तैयार है, मगर अब यहां पर किडनी ट्रांसप्लांट करवाने को लेकर मरीजों को भरोसा नहीं हो रहा है. आईजीएमसी के डॉक्टर मरीजों को किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर तैयार कर रहे हैं, मगर जब मरीजों को यह बताया जाता है कि आईजीएमसी में पहली बार किडनी ट्रांसप्लांट के लिए उन्हें तैयार किया जा रहा है तो ज्यादात्तर मरीज भरोसा नहीं कर पा रहे हैं. जबकि डॉक्टर जबरन पेशेंट को किडनी ट्रांसप्लांट के लिए तैयार भी नहीं कर पाएंगे. दावा किया जा रहा है कि अब तक कई मरीजों को पूछा गया है, मगर ज्यादात्तर ने मना कर दिया है. हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि किडनी ट्रांसप्लांट को लेकर जल्द ही पेशेंट को तैयार कर लिया जाएगा. कोशिश की जा रही है कि जुलाई माह तक पेशेंट्स की किडनी ट्रांसप्लांट कर दी जाएगी.
Loading...

ये भी पढ़ें: Kullu Bus Accident: 44 सीटर बस में सवार थे 79 यात्री

सुर्खियां: चिट्टे की तलब के लिए ठगी और हिमाचल में मॉनसून

हिमाचल: 500 मीटर नीचे नदी में गिरी बस, 44 की मौत, 35 घायल

कुल्लू बस हादसा: PM मोदी और राहुल गांधी ने जताया दुख

PHOTOS: हिमाचल में दर्दनाक हादसा, खाई में गिरी बस, 44 की मौत

डॉक्टर से छेड़छाड़: 300 लोगों से पूछताछ, जल्द सुलझेगी गुत्थी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 21, 2019, 7:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...