• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • Himachal Monsoon Session: विधानसभा का मानसून सत्र हंगामेदार रहने के आसार, 13 तक चलेगा सदन, गूंजेंगे 853 सवाल

Himachal Monsoon Session: विधानसभा का मानसून सत्र हंगामेदार रहने के आसार, 13 तक चलेगा सदन, गूंजेंगे 853 सवाल

सत्र में  850 से अधिक प्रश्न सदन में उठाए जाएंगे साथ ही कई नियमों के तहत चर्चा होगी

सत्र में 850 से अधिक प्रश्न सदन में उठाए जाएंगे साथ ही कई नियमों के तहत चर्चा होगी

Monsoon session of Himachal assembly: सोमवार से शुरू हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र 13 अगस्त तक चलेगा. इस दौरान कुल 10 बैठकें होंगी. विधायक 853 सवाल पूछकर सरकार को घेरेंगे.

  • Share this:

    शिमला. सभी तैयारियों के साथ हिमाचल प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र सोमवार से शुरू हो गया. 13 अगस्त तक चलने वाले इस सत्र के दौरान सदन में 850 से ज्यादा प्रश्न उठाए जाएंगे. पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह समेत 5 सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के साथ शुरू होने वाले सत्र के दौरान, कोरोना महामारी, हिमाचल में बारिश, फसलों को नुकसान, बागवानों की समस्याओं, सिंचाई, सड़क, स्वास्थ्य सुविधाओं समेत कई मुद्दों पर सवाल गूंजेंगे और हंगामे के आसार हैं.

    इस सत्र की शुरुआत पांच सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के साथ होगी. जिन नेताओं को श्रद्धांजलि दी जाएगी उनमें पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, विधायक नरेंद्र बरागटा के अलावा पूर्व विधायक राम सिंह,मोहन लाल और अमर सिंह शामिल हैं.

    सत्र की शुरूआत दोपहर 2 बजे से
    विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार में प्रेस वार्ता में बताया कि सोमवार को मानसून सत्र की कार्यवाही 2 बजे शुरु होगी जो 13 अगस्त तक चलेगी. इस दौरान कुल 10 बैठकें होंगी, जिनमें 853 सवाल जबाब होंगे. 5 और 12 अगस्त को गैर सरकारी कार्यदिवस होंगे. उन्होंने कहा कि प्रदेश विधानसभा का संचालन हिम्मत दृढ़ता हौसले से किया जा रहा है.

    लंबे अरसे बाद सतर्कता के साथ खुले दर्शक दीर्घा के द्वार
    कोरोना के चलते दो साल बाद सदन दर्शक दीर्घा के लिए प्रवेश द्वार खोले गए हैं. कोरोना हालतों के चलते सभी प्रवेश द्वार पर स्कैनिंग की व्यवस्था की गई है.बाहर से आने वाले कर्मचारियों, अधिकारियों और आम लोगों का तापमान चेक किया जाएगा, जिसके लिए आइसोलेशन रूम पैरा मेडिकल स्टाफ डॉक्टर और एम्बुलेंस परिसर के भीतर ही उपलब्ध रहेगा.

    सभी मंत्रियों से केवल एक व्यक्ति के साथ आने की अपील
    इसके अलावा सेनिटाइजेशन का कार्य भी दिन में एक बार किया जाएगा और साथ ही मास्क की सुविधा भी रखी जाएगी. इसके लिए नोडल अधिकारी भी लगाए गए हैं. उन्होंने कहा कि विधानसभा सत्र शुरु होने से पहले सभी मंत्रियों से अपील की है भारी–भरकम स्टाफ न लाएं. सुरक्षा स्टाफ को घर पर ही छोड़ें, एक ही व्यक्ति को अपने साथ लाएं.

    विधानसभा के कर्मचारियों की संख्या में कटौती
    दर्शक दीर्घा में सामाजिक दूरी के नियम का पालन किया जाएगा. इसके लिए विधानसभा के कर्मचारियों की संख्या में कटौती की है. जहां पहले 1200 कर्मचारी सत्र को चलाने के लिए लगाए जाते थे उनमें से 800 लोग ही तैनात किए जाएंगे. विधानसभा स्पीकर ने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस प्रशासन की ओर से सुरक्षा कड़ी रखी जाएगी. विधानसभा परिसर में सीसीटीवी और ड्रोन के माध्यम से निगरानी रखी जायेगी. कैमरे में हर आने जाने वाले का रिकॉर्ड रखा जाएगा.

    सभी विधायकों से की सहयोग की अपील
    उन्होंने कहा कि इस बार सत्र के लिए कुल मिलाकर 853 प्रश्न सभी विधायकों ने लगाए हैं, जिनमें 618 तारांकित 235 अतारांकित प्रश्न लगाए हैं. इसके अलावा भारी बरसात से हुए नुकसान, सिंचाई, पेयजल योजनाओं ,सड़कों और कोविड विषयों पर नियम 130 के तहत चर्चाएं की जाएंगी. साथ ही नियम 62 के तहत भी चर्चाएं होनी है.उन्होंने सभी दलों से सौहार्दपूर्ण चर्चा की मांग की है और गुजारिश की है. हिमाचल प्रदेश की विधानसभा श्रेष्ठ विधानसभा में आंकी जाती है इसलिए सभी दलों से सहयोग देने की अपील की है. सभी सदस्यों को अपनी बात रखने का मौका मिलेगा इसलिए सार्थक चर्चा की जाएगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन