होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /मॉनसून सीजनः 432 लोगों की मौत और 2192 करोड़ रुपये बहाकर हिमाचल से विदा हुआ मॉनसून

मॉनसून सीजनः 432 लोगों की मौत और 2192 करोड़ रुपये बहाकर हिमाचल से विदा हुआ मॉनसून

हिमाचल प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है. इनमें सड़क हादसे भी शामिल हैं.

हिमाचल प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है. इनमें सड़क हादसे भी शामिल हैं.

Monsoon in Himachal: हिमाचल प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है. इनमें सड़क हादसे भी शामिल हैं. भूस्ख ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भूस्खलन और सड़क हादसों में 769 लोग घायल हैं, जबकि फ्लैश फ्लड में 15 लोग अभी भी लापता हैं.
अब 15 नवंबर तक प्रदेश में पोस्ट मॉनसून सीजन रहेगा और 16 नवंबर से हिमाचल में विंटर सीजन शुरू होगा.

शिमला. हिमाचल प्रदेश से मॉनसून की विदाई हो गई है. 3 अक्तूबर को सूबे से मॉनसून विदा हो गया है. शिमला के मौसम विज्ञान केंद्र ने यह जानकारी दी है. इस बार मॉनसून सीजन में प्रदेश में सामान्य से दो फीसदी कम बारिश हुई है. हालांकि, बीते पांच साल में इस सीजन में सबसे अधिक नुकसान बारिश की वजह से हुआ है.

जानकारी के अनुसार, इस मॉनसून सीजन में 716.7 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है, जबकि 734.4 मिलीमीटर बारिश को सामान्य माना गया है. मौसम विभाग का अनुमान था कि हिमाचल प्रदेश से 25 सितंबर मॉनसून विदा होगा, लेकिन आठ दिन देरी से 3 अक्तूबर को मॉनसून ने अलविदा कहा है. साल 2021 में भी 8 अक्टूबर को हिमाचल से  मॉनसून की विदाई हुई थी और उस दौरान सामान्य से 12 फीसदी कम बारिश दर्ज की गई थी.

शिमला में सबसे अधिक बारिश

इस बार के मॉनसून सीजन में सबसे ज्यादा बारिश शिमला जिले में 898.6 मिलीमीटर दर्ज हुई, जबकि सबसे कम बारिश लाहौल-स्पीति जिले में (168.3 एमएम) हुई है. सितंबर में सामान्य से 13 फीसदी अधिक पानी बरा है. मंडी, लाहौल-स्पीति और चंबा जिला को छोड़कर प्रदेश के शेष सभी जिलों में सितंबर माह में सामान्य से अधिक बारिश देखी गई है. जून में सामान्य से 34 और अगस्त में चार फीसदी कम बारिश हुई है.

News18 Hindi

हिमाचल प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है. इनमें सड़क हादसे भी शामिल हैं.

दो दिन भारी बारिश का अलर्ट

अब 15 नवंबर तक प्रदेश में पोस्ट मॉनसून सीजन रहेगा और 16 नवंबर से हिमाचल में विंटर सीजन शुरू होगा. वहीं, प्रदेश के लिए दो दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश के कई भागों में 5 से 9 अक्तूबर तक बारिश की संभावना है. प्रदेश में 6 व 7 अक्तूबर को भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान ऊंची चोटियों पर बर्फबारी की संभावना है. भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए लोगों को प्रशासन की ओर से समय-समय पर जारी एडवाइजरी का पालन करने की सलाह दी गई है. पर्यटकों, स्थानीय लोगों को नदी-नालों से दूर रहने को कहा गया है.

432 लोगों की मौत, 2192 करोड़ का नुकसान

हिमाचल प्रदेश में इस मॉनसून सीजन में 432 लोगों की मौत हुई है. इनमें सड़क हादसे भी शामिल हैं. भूस्खलन और सड़क हादसों में 769 लोग घायल हैं, जबकि फ्लैश फ्लड में 15 लोग अभी भी लापता हैं. इसके अलावा, सीजन के दौरान 979 मवेशियों की मौत हुई है. 51 पक्के और 211 कच्चे मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं.  साथ ही 1109 गौशालाएं क्षतिग्रस्त हुई हैं. मॉनसून सीजन में अब तक 2192 करोड़ के नुकसान का आंकलन किया गया है.

गिरने लगा पारा

शिमला में सोमवार को न्यूनतम तापमान 15.0 डिग्री, सुंदरनगर 15.6, भुंतर 13.9, कल्पा 7.4, धर्मशाला 16.4, ऊना 19.6, नाहन 20.4 ,केलांग 5.1, पालमपुर 14.2, सोलन 15.0, मनाली 10.2, कांगड़ा 17.3, मंडी 17.6, बिलासपुर 20.0, हमीरपुर 18.3, चंबा 15.9, डलहौजी 10.5, कुफरी 13.1, रिकांगपिओ 11.2 और पांवटा साहिब में 23.0 डिग्री सेल्सियस रहा. ऊना में अधिकतम तापमान 35.4 डिग्री दर्ज किया गया.

Tags: Heavy rain, Himachal pradesh, Himachal Tourist, Snowfall

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें