अपना शहर चुनें

States

शिमला में 1000 के पार पहुंची क्वारन्टीन घरों की संख्या, MC कर रहा विशेष निगरानी

शिमला में लोगों के घरों के बाहर पोस्टर चस्पा किए गए हैं. (FILE PHOTO)
शिमला में लोगों के घरों के बाहर पोस्टर चस्पा किए गए हैं. (FILE PHOTO)

नगर निगम के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज का कहना है कि क्वारंटीन किए गए घरों से जहां 48 घंटे के बाद कचरा उठाया जा रहा है.

  • Share this:
शिमला. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए नगर निगम ने शहर में क्वारंटीन घरों में पोस्टर लगाने के लिए सर्विलांस अधिकारियों को नियुक्त किया है. इन अधिकारियों को क्वारंटीन घरों में पोस्टर लगाने के आदेश दिए हैं, ताकि क्वारंटीन घरों में रह रहे व्यक्तियों को क्वारंटीन में रह रहे लोगों से दूर रखा जा सके.

शुरूआत में जिला प्रशासन ने नगर निगम को जो सूची जारी की थी, उस सूची के अनुसार शहर में करीब एक हजार से ज्यादा घर को क्वारंटीन में रखा गया था, जैसे जैसे लोगों का 14 दिनों का क्वांरटीन का समय पूरा हो रहा है शहर में क्वारंटीन घरों की संख्या भी घटती जा रही है, जिन घरों को क्वारंटीन किया गया है. उन घरों में नगर निगम की ओर से विशेष एहतियात बरती जा रही है.

नगर निगम के संयुक्त आयुक्त का बयान
नगर निगम के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज का कहना है कि क्वारंटीन किए गए घरों से जहां 48 घंटे के बाद कचरा उठाया जा रहा है. वहीं क्वारंटीन घरों में लोगों को कचरा एकत्र करने के लिए पीला बैग भी दिया गया है. निगम के सफाई कर्मचारी इन्हीं पीले बैगों में कचरा लेते हैं. घरों से कचरा लेते समय उसे सैनेटाइज किया जाता है. जिन घरों को क्वारंटीन किया गया हैं उन घरों के लोगों को मॉस्क और दस्ताने भी दिए गए हैं. क्वारंटीन घरों से कचरा उठाने के लिए नगर निगम ने 3 से 4 टीमें बनाई गई है.
विशेष एहतियात बरती जा रही


उन्होंने बताया कि इन घरों से जो कूड़ा उठाया जाता है, वह बायो हैजार्ड कचरे की श्रेणी में आता है. इस कचरे को उसी के हिसाब से ट्रीट किया जाता है. उन्होंने बताया कि शहर में क्वांरटीन घरों से किसी भी तरह का संक्रमण न फैले, इसके लिए नगर निगम की ओर से विशेष एहतियात बरता जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज