लाइव टीवी

COVID-19: हिमाचल में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान, 8000 टीमें गठित, 29 सैंपल नेगेटिव
Shimla News in Hindi

News18 Himachal Pradesh
Updated: April 3, 2020, 9:03 PM IST
COVID-19: हिमाचल में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान, 8000 टीमें गठित, 29 सैंपल नेगेटिव
शिमला में एक्टिव केसों की जानकारी जुटाते कर्मचारी.

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य में अब तक 4038 लोगों को कोरोना वायरस की निगरानी में रखा गया है, जिसमें से 1655 लोगों ने 28 दिनों की निगरानी अवधि को पूरा कर लिया है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने राज्य में कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए राज्य के सभी उपायुक्तों (DC) और पुलिस अधीक्षकों (SP) के साथ वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद किया. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निजामुद्दीन तबलीगी जमात, जिसके कारण देश में कोरोना वायरस का आंकड़ा प्रतिदिन तेजी से बढ़ रहा है, के लोगों पर कड़ी निगरानी रखें। उन्होंने कहा कि इस बात पर ध्यान दिया जाना चाहिए कि किसी भी यात्रा इतिहास वाले व्यक्ति की पहचान जल्द से जल्द की जाए, ताकि कोरोना वायरस अन्य लोगों तक न पहुंच सके.

उन्होंने कहा कि ऐसी यात्रा करके आए लोगों को घर पर क्वारनटाइन किया जाए. उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं तथा स्थानीय शहरी निकायों के चुने हुए प्रतिनिधियों को अपने-अपने क्षेत्रों में ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए शामिल किया जाए जिनका राज्य के भीतर अथवा राज्य से बाहर यात्रा का इतिहास है.

एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान शुरू
जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य में एक्टिव केस फाइंडिंग अभियान शुरू किया गया है, जिसके तहत कोविड-19 के लक्ष्णों के बारे में जानकारी लेने के लिए 8000 टीमों का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत टीमें घर-घर जाकर प्रत्येक व्यक्ति की स्वास्थ्य की जानकारी लेंगी और गूगल फार्म के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग के साथ सांझा करेंगी.



कुशलतापूर्वक अपने कार्य को पूरा करें


मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाए कि एक्टिव केस फाइंडिंग टीमों को मास्क, दस्ताने और सुरक्षा उपकरण प्रदान किए जाएं, ताकि वे बिना किसी भय के कुशलतापूर्वक अपने कार्य को पूरा कर सकें. उन्होंने कहा कि तबलीगी जमात द्वारा कोरोना फैलने का मामला नहीं होता तो राज्य में कोरोना वायरस का कोई भी मामला नहीं था, क्योंकि टांडा मेडिकल कालेज में दाखिल महिला की कोरोना वायरस की रिपोर्ट हाल ही में नेगेटिव पाई गई है.

अब तक 296 टेस्ट लिए गए
जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य में अब तक 4038 लोगों को कोरोना वायरस की निगरानी में रखा गया है, जिसमें से 1655 लोगों ने 28 दिनों की निगरानी अवधि को पूरा कर लिया है. उन्होंने कहा कि आज कोविड-19 के 29 लोगों की जांच की गई जिसमें से टांडा मेडिकल कालेज के 23 सैंपल नैगेटिव पाए गए हैं और आईजीएमसी शिमला से लिए गए 6 सैंपलों की रिपोर्ट भी नैगेटिव पाई गई है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के लिए प्रदेश में कुल 296 लोगों की जांच की जा चुकी है और अब तक कुल 6 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं.

ये भी पढ़ें: COVID-19: तबलीगी जमात से हिमाचल लौटे तीन लोग कोरोना पॉजिटिव, 6 हुए कुल मामले

मरकज़ मामला: हिमाचल में धार्मिक सभाओं पर पूरी तरह से पाबन्दी के आदेश

ऊना में मिले कोरोना के 3 पॉजिटिव शख्स मंडी के वासी, ट्रेवल हिस्ट्री की जांच

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2020, 9:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading