नॉर्थ-ईस्ट की तर्ज पर हिमाचल को भी मिले स्पेशल पैकेज : मुकेश अग्निहोत्री

पूर्व उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा है कि जयराम सरकार को प्रदेश के लिए स्पेशल राज्य के पैकेज की मांग करनी चाहिए.

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 13, 2019, 1:52 PM IST
G.S. Tomar
G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 13, 2019, 1:52 PM IST
हिमाचल प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व उद्योग मंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा है कि जयराम सरकार को प्रदेश के लिए स्पेशल राज्य के पैकेज की मांग करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि नॉर्थ-ईस्ट राज्यों की तर्ज पर केंद्र सरकार को हिमाचल को भी पैकेज देना चाहिए. नेता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाया कि आधा-अधूरा पैकेज मिलने की वजह से प्रदेश में औद्योगिक निवेश में कमी आई है.

बता दें कि हिमाचल में और अधिक औद्योगिकविस्तार करने के उद्देश्य से जयराम सरकार विदेशी निवेशकों को आकर्षित करने के लिए साल के आखिर में धर्मशाला में अन्तर्राष्ट्रीय इन्वेस्टर-मीट आयोजित करवाने जा रही है. इस अन्तर्राष्ट्रीय इनवेस्टर-मीट के सफल आयोजन के लिए प्रदेश सरकार ने कवायद तेज कर दी है. इसी कड़ी में सीएम जयराम इन दिनों जर्मनी और नीदरलैंड के दौरे पर हैं. वह विदेशी निवेशकों को हिमाचल आने का न्योता दे रहें है.



स्पेशल पैकेज की मांग-

इस दौरान मुकेश अग्निहोत्री ने जयराम सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार को पहले स्पेशल पैकेज हिमाचल को दिलाने का प्रयास करना चाहिए. नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों के तर्ज पर ही हिमाचल को भी पैकेज मिले. तभी जाकर निवेशक प्रदेश के उधोगों में निवेश करना चाहेगा.

सरकार का प्रयास अच्छा-

सीएम जयराम के इन्वेस्टर मीट के सवाल पर पूर्व उधोग मंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि सरकार का प्रयास अच्छा है, लेकिन प्रदेश में स्पेशल पैकेज न होने से निवेशक हिमाचल में निवेश नहीं करना चाहते. जो निवेशक निवेश कर भी रहे हैं वे अपनी क्षमता से काफी कम का निवेश कर रहे हैं.

बेरोजगार हो रहे युवा-
Loading...

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि हिमाचल के युवाओं के रोजगार मे कमी आ रही है. प्रदेश के युवाओं को रोजगार से हटाया जा रहा है. जिससे प्रदेश के युवाओं को उधोगों के माध्यम से रोजगार देने का प्रयास जुमला बनकर रहे गया है.

ये भी पढ़ें- पांवटा साहिब में अवैध खनन का कारोबार धड़ल्ले से जारी, करोड़ों के राजस्व का नुकसान

ये भी पढ़ें- मनाली को जाम की समस्या से मिलेगी निजात, लागू होगा वन वे ट्रैफिक नियम
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...