लाइव टीवी

शिमला बनेगा स्मार्ट: प्रोजेक्ट कार्यों को अमलीजामा पहनाने फिल्ड में उतरे अधिकारी

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 20, 2019, 7:38 PM IST
शिमला बनेगा स्मार्ट: प्रोजेक्ट कार्यों को अमलीजामा पहनाने फिल्ड में उतरे अधिकारी
स्मार्ट सिटी शिमला के तहत 28 प्रोजेक्ट कार्यों को अमलीजामा पहनाने के लिए कार्य किया जा रहा है.

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के मद्देनजर शहर के लोअर बाजार, गंज और राम बाजार में नगर निगम की दुकानों व स्टालों का प्री- फेबरिक स्ट्रक्चर तैयार किया जाएगा. इसके लिए नगर निगम के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज की अगुवाई में हिमुडा व निगम की टीम के साथ सर्वे प्रक्रिया शुरू हो गई है.

  • Share this:
शिमला. राजधानी शिमला (Shimla) को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए नगर निगम शिमला (Municipal Corporation Shimla) सक्रिय हो गया है. प्रोजेक्ट कार्यों को धरातल पर लाने के लिए निगम के अधिकारी खुद फिल्ड में उतरकर जगहों का चयन कर रहे हैं. इसी कड़ी में बुधवार को नगर निगम शिमला के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज अधिकारियों के साथ फिल्ड में उतरकर एक जैसी दुकानें बनाने (Make similar Shops) के लिए शहर का निरीक्षण किया है. स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के मद्देनजर शहर के लोअर बाजार, गंज और राम बाजार में नगर निगम की दुकानों व स्टालों का प्री- फेबरिक स्ट्रक्चर तैयार किया जाएगा. इसके लिए नगर निगम के संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज की अगुवाई में हिमुडा व निगम की टीम के साथ सर्वे प्रक्रिया शुरू हो गई है.

हेरिटेज लुक में नजर आएंगी दुकानें 

लोअर बाजार, गंज व राम बाजार में एम.सी. की अपनी 400 दुकानें हैं, जिसका स्वरूप बदलने जा रहा है. इस योजना के तहत यहां पर प्री- फेबरिक स्ट्रक्चर दुकानें बनाने की योजना तैयार की गई है. खास बात यह होगी कि लोअर बाजार व राम बाजार में बनने वाली इन दुकानों का लुक पूरी तरह से हेरिटेज होगा. इससे एम.सी. की सभी दुकानों का स्ट्रक्चर एक जैसा होगा जो देखने वालों के लिए मुख्य आकर्षण का केंद्र बनेगा. इस पर 4.09 करोड़ रुपए खर्च होंगे.

तहबाजारियों को भी स्थायी दुकानें दी जाएंगी

संयुक्त आयुक्त जित भारद्वाज ने बताया कि स्मार्ट सिटी शिमला के तहत 28 प्रोजेक्ट कार्यों को अमलीजामा पहनाने के लिए कार्य किया जा रहा है. इसके लिए सभी प्रोजेक्ट कार्यों के लिए सर्वे कर जल्द से जल्द कार्य शुरू किया जाना है. इसमें शहर में एक जैसी दुकाने बनाने के लिए निगम अपनी ही जमीं पर स्टील फेब्रिक दुकानें बनाने जा रहा है. दुकानें बनाने का कार्य हिमुडा विभाग करेगा. उन्होंने बताया कि एक ओर जहां एक ही आकार और रूप की दुकानें बनाई जाएंगी, वहीं पंजीकृत तहबाजारियों को भी स्थायी दुकानें दी जाएंगी.

संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज की अगुवाई में सर्वे प्रक्रिया शुरू हो गई है.


संयुक्त आयुक्त ने बताया कि माल रोड पर बनी सभी दुकानों का डिजाइन भी एक जैसा ही होगा. गौरतलब है कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की समीक्षा बैठक के दौरान प्रबंध निदेशक पंकज राय ने यह दिशा निर्देश अधिकारियों को दिए हैं. साथ ही विकास कार्यों को तय समय के भीतर पूरा करने के निर्देश भी दिए गए हैं.ये भी पढ़ें - 2021 तक हिमाचल होगा टीबी मुक्त, शिमला में 30 नवंबर तक हर कोई की होगी जांच

ये भी पढ़ें - हिमाचली पोशाक में डिग्री और मेडल लेंगे छात्र, विदेशी गाउन और टोपी को बाय बाय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2019, 7:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर