लाइव टीवी

राजनीतिक जीवन में पहली बार देखा महंगाई का ऐसा रौद्र रूप: वीरभद्र सिंह

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 11, 2019, 12:21 PM IST
राजनीतिक जीवन में पहली बार देखा महंगाई का ऐसा रौद्र रूप: वीरभद्र सिंह
हिमाचल के पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह. (FILE PHOTO)

वीरभद्र सिंह ने कहा कि ऐसी ही स्थितियों से हिमाचल प्रदेश भी गुजर रहा है. बीते 2 साल में वर्तमान प्रदेश भाजपा सरकार ने भी प्रदेश की जनता को निराश ही किया है

  • Share this:
शिमला. हिमाचल कांग्रेस (Himachal Congress) के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) ने कहा है कि अपने राजनीतिक जीवनकाल में उन्होंने महंगाई (Inflation) का ऐसा रौद्र रूप पहले कभी नहीं देखा है. देश की आर्थिक परिस्थितियों को सुधारने की बजाये बदतर बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पूरे देश में निराशाजनक माहौल बना हुआ है. घर-घर के आजीज रहे प्याज की कीमतें (Onions Rate) ही दोहरा शतक पार करने जा रही है. ऐसी परिस्थितियों से देश कभी नहीं जूझा, जबकि देश की जीडीपी (GDP) दर ही 4 प्रतिशत तक पहुंचने वाली है.

हिमाचल में भी हालात खराब
वीरभद्र सिंह ने कहा कि ऐसी ही स्थितियों से हिमाचल प्रदेश भी गुजर रहा है. बीते 2 साल में वर्तमान प्रदेश भाजपा सरकार ने भी प्रदेश की जनता को निराश ही किया है, जबकि धरातल पर कोई काम नहीं हो रहा है. स्कूल वर्दी खरीद में ही बड़े स्तर पर गोलमाल की आशंका जताई जा रही है, जिस पर कांग्रेस पार्टी द्वारा मामला उठाने के बाद जांच बिठाई जा रही है. उन्होंने हैरानी जताते हुए कहा कि जनता के पैसे से इन्वेस्टर मीट (Investor Meet) जैसा मैगा इवेन्ट करवाने के बावजूद राज्य सरकार के हाथ खाली रह गए हैं, जबकि इस पर सरकार ने खूब शोर-शराबा किया.

इन्वेस्टर मीट पर कितना निवेश हुआ?

पूर्व सीएम ने कहा कि सरकार को अब इन्वेस्टर मीट पर कितना निवेश हुआ, विधानसभा सत्र में इसका जबाव देना ही होगा. उन्होंने कहा कि सरकार की नाकामियां उजागर हो रही हैं तथा अब ऐसा भी नहीं कह सकते हैं कि कोई नई-नवेली सरकार बनी हुई है जिसे संभलने का और ज्यादा अवसर दिया जाए. वीरभद्र सिंह ने कहा कि उन्होंने अपनी जिंदगी का आधे से ज्यादा सफर राजनीति में ही बिताया है, लेकिन ऐसी परिस्थितियां पहले कभी नहीं देखी, जब जनता के मन में ही सरकार के खिलाफ इस तरह का आक्रोश हो. पूरा देश सरकार की चालाकियां व नामाकियों से अवगत हो चुका है. ना तो किसी विजन से काम किया जा रहा है और न ही नीयत सही है. अन्य राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ सरकार द्वेष की भावना से मामले दर्ज करवाने में लगी हुई है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में मिड-डे मील के दौरान जातीय भेदभाव का आरोप, VIDEO वायरल, FIR

हैदराबाद एनकाउंटर पर खली के सवाल, देश में लाखों रेप हुए, कितनों को गोली मारी?इसी माह रिटायर होंगे 5 IAS-HAS, हिमाचल सरकार को खलेगी अधिकारियों की कमी!

दुबई में कांगड़ा के युवक की हत्या, एक माह बाद घर पहुंचाया शव, माहौल गमगीन

10 दिन से लापता शुभम: ‘मेरे बेटे को वापस लाओ’, दोस्त का होगा Polygraph टेस्ट!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 12:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर