PPE किट घोटाला: ऑडियो रिक़ॉर्ड करने वाला शख्स बोला, 45 लाख पेमेंट के लिए पूर्व निदेशक ने मांगी थी 5 लाख घूस

हिमाचल स्वास्थ्य विभाग के पूर्व निदेशक आरोपी अजय गुप्ता. (FILE PHOTO)
हिमाचल स्वास्थ्य विभाग के पूर्व निदेशक आरोपी अजय गुप्ता. (FILE PHOTO)

बीते 20 मई को यह 43 सेकेंड ऑडियो सामने आया था. इसके बाद हिमाचल स्वास्थ्य विभाग के निदेशक अजय गुप्ता की गिरफ्तारी हुई. मामले में भाजपा पर आरोप लगने लगे तो 26 मई को हिमाचल भाजपा के अध्यक्ष राजीव बिंदल ने इस्तीफा सौंपा. फिलहाल, गुप्ता पांच दिन के रिमांड पर है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश की सियासत में हलचल लाने वाले वॉयरल ऑडियो (Viral Audio Case) मामले में एक और खुलासा हुआ है. ऑडियो रिकॉर्ड करने का दावा करने वाले एक शख्स और एक स्थानीय पत्रकार का एक ऑडियो सामने आया है. स्थानीय पत्रकार से बातचीत में ऑडियो रिक़ॉर्ड करने वाले शख्स पृथ्वी सिंह ने कहा कि 45 लाख की पेमेंट के लिए पांच लाख रुपये की घूस मांगी गई थी. आरोपी स्वास्थ्य विभाग का पूर्व निदेशक पेमेंट का दस फीसदी मांग रहा था. यही बयान उन्होंने विजिलेंस को भी दिया है.

गुप्ता ने रोकी थी पेमेंट
साथ ही उसने माना कि उसने ही तत्कालीन स्वास्थ्य निदेशक एके गुप्ता से हुई उसकी बातचीत को रिकॉर्ड किया था. क्योंकि डा गुप्ता ने पेमेंट रोक दी थी. पृथ्वी सिंह ने बताया कि पांच लाख रुपये ऑफर करना मेरी मजबूरी थी, क्योंकि मैं पेमेंट के लिए चक्कर काट रहा था. साथ ही उन्होंने कहा कि उनकी गिरफ्तारी की खबरें झूठी हैं. उन्होंने कहा कि ऑडियो में उन्हीं की आवाज है.

यह भी बोला पृथ्वी सिंह
धमकी या किसी तरह के खतरे के सवाल पर पृथ्वी सिंह ने कहा कि फिलहाल, उन्हें किसी तरह की धमकी नहीं आई है, लेकिन आईजीएमसी में आरोपी कई लोगों को फोन किए थे. ऐसे में उन्हें निजी तौर पर हानी पहुंचाई जा सकती है. साथ ही वह सरकारी कागजों और दस्तावेजों को नुकसान पहुंचा सकता है. मैं कही भी आरोपी के खिलाफ गवाही देने के लिए तैयार हूं.



बिंदल की कुर्सी गई
सोशल मीडिया में पृथ्वी के इस बयान के वायरल होने के बाद सियासी हलको में हलचल बढ़ गई है. दरअसल, अब तक पृथ्वी को भाजपा के कद्दावर नेता का करीबी बताते हुए यह कहा जा रहा था कि वह नेता के साथ मिलकर भ्रष्टाचार के मामले में संलिप्त था. इस मामले में भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राजीव बिंदल को भी बुधवार को इस्तीफा देना पड़ा था. बिंदल साढ़े चार महीने पहले ही हिमाचल भाजपा के अध्यक्ष बने थे. उन्होंने कहा था कि वह नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे रहे हैं और उनका और पार्टी का इस मामले से कोई लेना देना नहीं है.

अब तक क्या हुआ
बीते 20 मई को यह 43 सेकेंड ऑडियो सामने आया था. इसके बाद हिमाचल स्वास्थ्य विभाग के निदेशक अजय गुप्ता की गिरफ्तारी हुई. मामले में भाजपा पर आरोप लगने लगे तो 26 मई को हिमाचल भाजपा के अध्यक्ष राजीव बिंदल ने इस्तीफा सौंपा. फिलहाल, गुप्ता पांच दिन के रिमांड पर है.

ये भी पढ़ें: कुल्लू: कुर्सी की पालकी बनाई, 6 Km कंधों पर उठाकर सड़क तक पहुंचाई बीमार महिला

हमीरपुर में लापरवाही: 15 कोरोना संक्रमितों की रिपोर्ट नेगेटिव बताकर घर भेजा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज