Home /News /himachal-pradesh /

4 माह के बच्चे की मौत पर हंगामा, डॉक्टर ने बिना जांचे फोन पर लिखवा दी दवाएं

4 माह के बच्चे की मौत पर हंगामा, डॉक्टर ने बिना जांचे फोन पर लिखवा दी दवाएं

नेरवा अस्पताल के बाहर पुलिस.

नेरवा अस्पताल के बाहर पुलिस.

जैसे-तैसे तीमारदार ने प्राइवेट टैक्सी को हायर की और ऑक्सीज़न की व्यवस्था की, मगर अफ़सोस की चौपाल से थोड़ा आगे जाकर ऑक्सीज़न खत्म हो गई और 4 महीने के मासूम बच्चे ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया.

    हिमाचल प्रदेश के चौपाल उपमंडल के नेरवा में 4 महीने के बच्चे की मौत के बाद लोग गुस्साए हुए है. परिजनों का आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के चलते मासूम को अपनी जान गंवानी पड़ी. नेरवा अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के चलते स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश है.

    आरोप है कि बीमार बच्चे को लेकर जब परिवार वाले अस्पताल पहुँचे तो मौके पर कोई भी डॉक्टर मौजूद नहीं थे. आरोप है कि फ़ोन करके जब स्टाफ नर्स ने बच्चे की गंभीर हालत के बारे में बताया तो डॉक्टर ने अस्पताल न पहुँच फ़ोन पर ही कुछ दवाइयां लिखवा कर देने को कहा.

    BMO को शिकायत करने के करीब एक घंटे बाद डॉक्टर अस्पताल पहुंचे मगर तब तक काफी देर हो चुकी थी. बच्चे को हायर सेंटर शिमला रेफर किया गया. 108 एम्बुलेन्स मांगने पर भी मुहैया नहीं करवाई गई.

    जैसे-तैसे तीमारदार ने प्राइवेट टैक्सी को हायर की और ऑक्सीज़न की व्यवस्था की, मगर अफ़सोस की चौपाल से थोड़ा आगे जाकर ऑक्सीज़न खत्म हो गई और 4 महीने के मासूम बच्चे ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया.

    (नेरवां से पंकज की रिपोर्ट)

    Tags: Shimla

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर