Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल की पहली इनवेस्टर मीट: कृषि क्षेत्र में निवेशकों ने नहीं दिखाई रुचि

हिमाचल की पहली इनवेस्टर मीट: कृषि क्षेत्र में निवेशकों ने नहीं दिखाई रुचि

हिमाचल के कृषि मंत्री राम लाल मारकंडा.

हिमाचल के कृषि मंत्री राम लाल मारकंडा.

हिमाचल प्रदेश सरकार का दावा है कि 79000 करोड़ के एमओयू पहले ही विभिन्न कंपनियों के साथ किए जा चुके हैं और 85000 करोड़ रूपये के निवेश के लक्ष्य को आसानी से प्राप्त करने की उम्मीद जताई जा रही है.

शिमला. सात और आठ नवंबर को हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के कांगड़ा जिले के धर्मशाला में प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेसटर मीट (Global Investor Meet) में 85000 करोड़ रुपये का निवेश के लक्ष्य रखा गया था. इसे साधने में जुटी प्रदेश की जयराम सरकार (Jairam Govt) अब तक कृषि क्षेत्र में निवेश लाने में नाकाम रही है. प्रदेश की परम्परागत कृषि में बाहरी राज्यों के निवेशकों ने कम रुचि दिखाई और सरकार कोई भी MOU साइन नहीं कर सकी.

ये बोले कृषि मंत्री
प्रदेश सरकार में कृषि मंत्री रामलाल मारकंडा को इन्वेस्टर मीट के दौरान कृषि क्षेत्र में भी निवेश आने की उम्मीद है. कृषि मंत्री का कहना है कि फिलहाल कोई समझौता ज्ञापन नहीं हुआ, लेकिन इन्वेस्टर मीट के दौरान कृषि क्षेत्र में भी निवेशक निवेश करेंगे. कृषि मंत्री रामलाल मारंकडा ने कहा कि आईटी क्षेत्र में 1100 करोड़ रुपये के MOU साइन किए गए है, जो इन्वेस्टर मीट के दौरान और बढ़ने की उम्मीद है.

79000 करोड़ के एमओयू हुए
हिमाचल प्रदेश सरकार का दावा है कि 79000 करोड़ के एमओयू पहले ही विभिन्न कंपनियों के साथ किए जा चुके हैं और 85000 करोड़ रूपये के निवेश के लक्ष्य को आसानी से प्राप्त करने की उम्मीद जताई जा रही है.

ये भी पढ़ें : VIDEO: बांस के डंडों पर हिमाचल का हेल्थ सिस्टम, यूं सड़क तक पहुंचाई महिला मरीज

हिमाचल: पुल से टकराई कार, दो युवकों की मौत, 1 गंभीर

VIDEO: हिमाचल में द बर्निंग कार! चलती स्कॉर्पियो में आग, बाल-बाल बचे सवार

इस बैंक को भारी नुकसान पहुंचाने की फिराक में था APG यूनिवर्सिटी प्रबंधन

हिमाचल में तैयार होगा कैंसर रोधी गुण वाला जापान का शिटाके मशरूम!

स्क्रब टायफस से महिला की मौत, अब तक 13 मौतें, 1415 पॉजिटिव मामले

Tags: Himachal pradesh

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर