हिमाचल प्रदेश में 'No Mask, No Service' का फार्मूला, 7 दिन के लिए लागू हुई बंदिशें, जानें कहां-कहां रहेगी रोक

हिमाचल प्रदेश कैबिनेट की बैठक में लिया गया निर्णय. कोरोना के चलते 7 दिन रहेंगी बंदिशें. (FILE PHOTO)

हिमाचल प्रदेश कैबिनेट की बैठक में लिया गया निर्णय. कोरोना के चलते 7 दिन रहेंगी बंदिशें. (FILE PHOTO)

हिमाचल प्रदेश में पुरानी बंदिशें लागू होंगी. हिमाचल कैबिनेट ने बड़ा लिया है. सभी मेलों, बड़े कार्यक्रमों पर रोक लगा दी गई है. जो मेले चल रहे हैं वो 3 दिन के भीतर खत्म करने होंगे, नो मास्क, नो सर्विस का फॉर्मूला लागू कर दिया गया है. अगले 7 दिन के लिए लागू होंगी बंदिशें. शनिवार को जारी होंगे आदेश.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 19, 2021, 9:25 PM IST
  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर से कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए बंदिशें लगाने का फैसला किया गया है. शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश विधानसभा में हुई कैबिनेट की बैठक में इस पर विस्तार से चर्चा हुई. शनिवार शाम को मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ बैठक कर पाबंदियों को लेकर आदेश जारी कर देंगे. पुख्ता सूत्रों के अनुसार हिमाचल में सभी मेलों पर रोक लगा दी जाएगी. इस समय जो मेले चल रहे हैं वो 3 दिन के भीतर बंद कर दिए जाएंगे. कैबिनेट ने इस पर अपनी मुहर लगा दी है.

बड़े मेलों के अलावा बड़े कार्यक्रमों के आयोजनों पर भी रोक लगा दी जाएगी. लंगर सेवा भी बंद करने के अलावा बड़े हॉल में 200 से ज्यादा लोग इक्ठ्ठा नहीं हो सकते हैं, खुले स्थान जैसे मैदान में बैठने की पूरी क्षमता के आधा लोग ही जमा हो पाएंगे यानि जिस स्थान पर एक हजार लोग एक साथ बैठ सकते हैं, वहां पर केवल 500 लोगों को बैठने की इजाजत होगी, जिस तरह पहले पाबंदी लगाई गई थी.

लागू होगा 'No Mask, No Service' फार्मूला
प्रदेश में 'नो मास्क नो सर्विस' का फॉर्मूला लागू किया जाएगा. मास्क पहने बिना अगर आप अपने किसी कार्य के लिए सरकारी दफ्तर में जाएंगे या फिर बस सेवा का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको वो सेवा नहीं मिलेगी. बिना मास्क किसी भी तरह की सर्विस नहीं मिलेगी. ये बंदिशे आदेश जारी होने के 7 दिनों तक लागू रहेंगी.आगामी कैबिनेट में स्थिती को देखते हुए बंदिशे जारी रखने या बंद करने पर फैसला लिया जाएगा.

शनिवार को जारी किया जाएगा आदेश 

News18 से एक्सक्लूसिव बातचीत में CM जयराम ठाकुर ने कहा कि विधानसभा में हुई कैबिनेट बैठक के निर्णयों की जानकारी सबसे पहले सदन को दी जाती है. सीएम ने कहा कि शनिवार शाम को सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए बात की जाएगी, उसके बाद ही आदेश जारी कर दिए जाएंगे. सीएम इतना जरूर कहा कि कोरोना के नियमों को लेकर सख्ती बरती जाएगी. कैबिनेट में और क्या निर्णय होते हैं या फिर और पाबंदिया लगाई जाएंगी इसके बारे में आदेश जारी किए जाएंगे.

सबसे ज्यादा केस ऊना में बढ़ रहे हैं



वहीं, संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए आदेश जारी रहेंगे. उन्होंने कहा कि हिमाचल के बॉर्डर एरियों,खासकर ऊना जिले में मामले बढ़ रहे हैं. ऊना में आर्मी की भर्ती चल रही है. छात्रावास खुल चुके हैं, वैक्सीन के आ जाने के बाद लोग ढिलाई भी बरत रहे हैं. एसओपी की भी पालना नहीं की जा रही है. जिससे कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं और मृत्यू दर भी बढ़ रही है. ऐसे में हिमाचल सरकार सख्त फैसले लेगी. इतना जरूर उन्होंने कहा कि ‘नो मास्क नो सर्विस’ का फैसला लागू कर दिया जाएगा. कोरोना को लेकर जन जागरण अभियान चलाया जाएगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज