• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल सरकार अब रेप-एसिड अटैक मामलों में पीड़ित को देगी 3-3 लाख का मुआवजा

हिमाचल सरकार अब रेप-एसिड अटैक मामलों में पीड़ित को देगी 3-3 लाख का मुआवजा

हिमाचल सरकार ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दी है.

हिमाचल सरकार ने इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर दी है.

जारी अधिसूचना के अनुसार, एसिड अटैक और दुराचार पीड़िताओं को सरकार तीन-तीन लाख रुपये देगी. भ्रूण हत्या से हानि होने पर 50 हजार रुपये का मुआवजा मिलेगा. गृह विभाग ने हिमाचल प्रदेश अपराध से पीड़ित व्यक्ति प्रतिकर स्कीम 2019 को लागू करने की अधिसूचना जारी की है. आवेदन के बावजूद मुआवजा नहीं मिला तो पीड़ित राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के पास अपील कर सकते हैं.

  • Share this:
    शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में अब दुराचार (Rape) और एसिड अटैक (Acid Attack) मामलों में पीड़ित को तीन-तीन लाख रुपये का मुआवजा (Compensation) मिलेगा. इसके अलावा, यौन शोषण मामले में नाबालिग पीड़िता को दो लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. राज्य सरकार (State Government) ने इस संबंध में नोटिफिकेशन (अधिसूचना) जारी किया है.

    नोटिफिकेशन के अनुसार, हिमाचल में एसिड अटैक और दुराचार पीड़िताओं को हिमाचल सरकार तीन-तीन लाख रुपये देगी. भ्रूण हत्या से हानि होने पर 50 हजार रुपये का मुआवजा मिलेगा. गृह विभाग ने हिमाचल प्रदेश अपराध से पीड़ित व्यक्ति प्रतिकर स्कीम 2019 को लागू करने की अधिसूचना जारी की है. आवेदन के बावजूद मुआवजा नहीं मिला तो पीड़ित राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के पास अपील कर सकते हैं. मुआवजा नहीं देने के किसी आदेश के खिलाफ 90 दिन के भीतर प्राधिकरण में अपील करनी होगी.

    हिमाचल सरकारी की ओर से जारी नोटिफिकेशन.
    हिमाचल सरकार की ओर से जारी हुआ नोटिफिकेशन


    ये है नोटिफिकेशन में
    योजना के अनुसार, 11 अक्तूबर, 2019 के बाद मिले आवेदनों पर यह मुआवजा मिलेगा. इसके अलावा, उन मामलों में भी मुआवजा मिलेगा, जिनकी ट्रायल कोर्ट संस्तुति करेगा या फिर जिन मामलों में आवेदन जिला या राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण को दिए गए हों. मामले में एफआईआर दर्ज पीड़ित भी इस मुआवजे के हकदार होंगे. पीड़ित को ऐसे मामलों में मुआवजा मिलेगा, जिनमें अपराधी ट्रेस नहीं किया जा सका या फिर केस का ट्रायल नहीं हो पाया हो.

    इतना मुआवाजा मिलेगा
    नोटिफिकेशन के अनुसार, एसिड अटैक और दुराचार मामले में 3-3 लाख रुपये, नाबालिग के शारीरिक शोषण पर दो लाख रुपये, मानव तस्करी केस में पुनर्वास के लिए दो लाख, यौन हमला पर 50 हजार रुपये, भ्रूण हत्या से हानि पर 50 हजार, प्रजनन की हानि पर 1.50 लाख रुपये, सीमा पार से गोलीबारी में महिला की मौत 2 लाख रुपये और अश्लील प्रयोजन के लिए बच्चे का उत्पीड़न 50 हजार रुपये मुआवाज मिलेगा.

    ये भी पढ़ें: हिमाचल: टीचर पिता पर आरोप, 22 माह की बेटी से किया दुष्कर्म; FIR

    महिला की मौत: SP बोले-पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार, परिजनों ने CM को ज्ञापन

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज