Home /News /himachal-pradesh /

once again himachal assembly deputy speaker hans raj inspects chamba school after slapping incident hpvk

फिर स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे डिप्टी स्पीकर हंसराज, इस बार थप्पड़ नहीं, खूब बांटा ज्ञान

अब फिर से डिप्टी स्पीकर स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंचे हैं.

अब फिर से डिप्टी स्पीकर स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंचे हैं.

शनिवार को डॉ. हंसराज आज चुराह विधानसभा क्षेत्र के तहत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हिमगिरि में विधायक विद्यालय के द्वार कार्यक्रम के तहत स्कूल प्रबंधन समिति, विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के साथ संवाद किया. विधानसभा उपाध्यक्ष ने विशेषकर कक्षा जमा एक और जमा दो के विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के मूल मंत्र देते हुए सामयिक विषय से संबंधित गतिविधियों (करंट अफेयर्स) की जानकारी के प्रति गंभीरता रखने का आह्वान किया.

अधिक पढ़ें ...

चंबा. हिमाचल प्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ. हंसराज स्कूली बच्चे को थप्पड़ मारने के बाद विवादों में हैं. चंबा के तीसा में स्कूल का निरीक्षण करने के दौरान उन्हें एक बच्चे को थप्पड़ जड़ दिया था. इसका वीडियो भी सामने आया. अब फिर से डिप्टी स्पीकर स्कूलों का निरीक्षण करने पहुंचे हैं. इस दौरान उन्होंने बच्चों को खूब ज्ञान बांटा. उपाध्यक्ष डॉ. हंसराज कहा है कि प्रतिस्पर्धा के इस वर्तमान समय में विद्यार्थियों को अपने जीवन का निर्धारित लक्ष्य हासिल करने के लिए शिक्षा के साथ-साथ बहु आयामी गतिविधियों को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाया जाना चाहिए.

शनिवार को डॉ. हंसराज आज चुराह विधानसभा क्षेत्र के तहत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हिमगिरि में विधायक विद्यालय के द्वार कार्यक्रम के तहत स्कूल प्रबंधन समिति, विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के साथ संवाद किया. विद्यार्थी जीवन में दिनचर्या के समुचित उपयोग के लिए समय सारणी की आवश्यकता पर जोर देते हुए विधानसभा उपाध्यक्ष ने विशेषकर कक्षा जमा एक और जमा दो के विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के मूल मंत्र देते हुए सामयिक विषय से संबंधित गतिविधियों (करंट अफेयर्स) की जानकारी के प्रति गंभीरता रखने का आह्वान किया.

उन्होंने यह भी कहा कि केवल मात्र कक्षा उत्तीर्ण करना ही विद्यार्थियों का लक्ष्य नहीं होना चाहिए. गला काट प्रतिस्पर्धा के इस दौर में उत्कृष्ट शिक्षण संस्थानों में प्रवेश के लिए अंकों की प्रतिशतता भी सबसे अहम है. डॉ. हंसराज ने स्थानीय स्कूल प्रबंधन को सुबह की प्रार्थना सभा (मॉर्निंग असेंबली) को शुरू करने के निर्देश जारी किए. उन्होंने यह निर्देश भी दिए की इस दौरान सामयिक विषय से संबंधित गतिविधियां आयोजित करना सुनिश्चित बनाया जाए.

विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि हिमगिरी क्षेत्र शिक्षा के लिहाज से बेहतर रहा है. इस क्षेत्र के कई उच्च अधिकारी और कर्मचारी विभिन्न विभागों में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं. विद्यार्थियों को उनसे भी प्रेरणा लेनी चाहिए. डॉ. हंसराज ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र के सभी शिक्षण संस्थानों में आवश्यक आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए विशेष प्राथमिकता रखी गई है. विभिन्न स्कूलों में समुचित शिक्षण व्यवस्था के लिए अस्थाई तौर पर अध्यापकों की उपलब्धता सुनिश्चित बनाई जा रही है. स्कूल प्रबंधन समितियों द्वारा स्थानीय पात्र युवाओं का चयन करने को कहा गया है.

इसके साथ उन्हें उचित मानदेय देने की व्यवस्था भी की गई है. विधानसभा उपाध्यक्ष ने यह भी कहा कि व्यवस्था सुनिश्चित बनाने के वे अपने वेतन का तीस प्रतिशत हिस्सा उपलब्ध करवाएंगे. उन्होंने इस दौरान स्कूल प्रबंधन को सभी आवश्यक संसाधनों को उपलब्ध करवाने का भरोसा भी दिया और उन्होंने बालिका छात्रावास में सोलर पैनल लगाने के लिए 1 लाख देने की घोषणा की. इसके पश्चात विधानसभा उपाध्यक्ष ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला थल्ली में संवाद के दौरान कहा कि 11वीं और 12वीं में पढ़ रहे बच्चों का मार्गदर्शन और परामर्श भी किया जाए, ताकि उन्हें भविष्य में किस क्षेत्र की ओर बढ़ना चाहिए और उसके लिए क्या तैयारी करनी चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा वे खुद भी स्कूलों का दौरा कर छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे. उन्होंने स्कूल प्रबंधन की मांग को पूरा करते हुए स्कूल में परीक्षा हॉल के निर्माण के लिए 10 लाख रुपए की धनराशि देने की बात भी कही और उन्होंने प्रवक्ताओं के रिक्त चल रहे पदों स्थानीय स्तर पर ही अस्थाई तौर पर रखने के लिए स्कूल प्रबंधन समिति को निर्देशित किया. दोपहर बाद विधानसभा उपाध्यक्ष ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला झज्जाकोठी में भी स्कूल प्रबंधन समिति, विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों से संवाद किया.

Tags: Himachal news, Himachal pradesh

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर