लाइव टीवी

हिमाचल: दो मासूम बच्चों को हुआ स्वाइन फ्लू, IGMC में भर्ती, अब तक 7 मामले सामने आए
Shimla News in Hindi

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 13, 2020, 11:56 AM IST
हिमाचल: दो मासूम बच्चों को हुआ स्वाइन फ्लू, IGMC में भर्ती, अब तक 7 मामले सामने आए
शिमला का आईजीएमसी अस्पताल. (FILE PHOTO)

Swine Flu in Shimla: साल 2019 में हिमाचल प्रदेश में स्वाइन फ्लू से 41 लोगों की जान गई थी. इससे पहले, 2017 में स्वाइन फ्लू ने 27 लोगों को अपना ग्रास बनाया था.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में स्वाइन फ्लू (Swine Flu) के दो ताजा मामले सामने आए हैं. शिमला के इंदिरा गांधी मेडिकल क़ॉलेज और अस्पताल (IGMC) में दोनों मासूमों को भर्ती किया गया है. मंगलवार को इन दोनों बच्चों को खांसी और बुखार के चलते अस्पताल लाया गया था. यहां जांच के बाद इनमें स्वाइन फ्लू (Swine Flu) के लक्षण पाए गए हैं. बुधवार रात को इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है. फिलहाल, इनका इलाज चल रहा है.

चिल्ड्रन वॉर्ड में चल रहा इलाज
जानकारी के अनुसार, मंगलवार को अस्पताल लाए गए शिमला (Shimla) के चौपाल के एक साल और चार साल के बच्चे को खांसी और जुखाम की शिकायत थी. अब स्वाइन फ्लू की पुष्टि होने के बाद उनका चिल्ड्रन वॉर्ड में इलाज चल रहा है. आईजीएमसी के एमएस डॉ. जनक राज ने दोनों मामलों की पुष्टि की है.

इससे पहले डॉक्टर को हुआ था स्वाइन फ्लू

इससे पहले, 3 फरवरी को आईजीएमसी के ही एक डॉक्टर (Doctor) को स्वाइन फ्लू होने की बात सामने आई है. डॉक्टर अस्पताल से ही पीजी कोर्स करता है. डॉक्टर का आईजीएमसी में ही इलाज किया गया था. बता दें कि स्वाइन फ्लू का पहला मामला भी शिमला से ही सामने आया था. 6 साल की बच्ची की स्वाइन फ्लू की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. प्रदेश में स्वाइन फ्लू के 7 मामले सामने आ चुके हैं. शिमला में 5, मंडी से एक और कांगड़ा से एक केस रिपोर्ट हुआ है. इस साल 85 संदिग्ध लोगों की स्वाइन फ्लू की जांच की जा चुकी है. हिमाचल स्वास्थ्य विभाग ने यह आंकड़े जारी किए हैं और 11 फरवरी तक का डाटा है.

हिमाचल में स्वाइन फ्लू के पांच मामले सामने आए हैं.

बीते साल गई थी 41 लोगों की जान साल 2019 में हिमाचल प्रदेश में स्वाइन फ्लू से 41 लोगों की जान गई थी. इससे पहले, 2017 में स्वाइन फ्लू ने 27 लोगों को अपना ग्रास बनाया था. बता दें कि स्वाइन फ्लू की शुरूआत खांसी-जुकाम से ही होती है. बीमारी में शरीर में थकान, ठंड लगना, सिर दर्द होना इसके लक्षण हैं. स्वाइन फ्लू एक तीव्र संक्रामक रोग है, जो एक विशिष्ट प्रकार के एंफ्लुएंजा वायरस से होता है. इससे प्रभावित व्यक्ति को अस्पताल जाकर अपना इलाज करवाना चाहिए. स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्वाइन फ्लू का इलाज मुफ्त किया जाता है और फ्री में ही दवाएं दी जाती हैं.

ये भी पढ़ें: CM का काफिला रोकने की कोशिश, पुलिस से धक्का-मुक्की, छात्रा बेहोश, 5 पर FIR

चिड़गांव में खेलते-खेलते मां के सामने पब्बर नदी में बह गया दो साल का मासूम

हिमाचल सरकार के जनमंच कार्यक्रम में परोसा बासी खाना, कुत्तों ने भी नहीं खाया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 11:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर