लाइव टीवी

हिमाचल प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट जारी, 13-17 जनवरी तक कहर बरपाएगा मौसम
Shimla News in Hindi

Reshma Kashyap | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 11, 2020, 1:59 PM IST
हिमाचल प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट जारी, 13-17 जनवरी तक कहर बरपाएगा मौसम
मौसम विभाग ने 13 जनवरी को प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में और मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में भारी हिमपात और मैदानी क्षेत्रों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

मौसम विभाग के अनुसार आज से प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय रहने वाला है. इसका असर प्रदेश में 15 जनवरी तक देखने को मिलेगा. इतना ही नहीं मौसम विभाग ने 13 जनवरी को प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में और मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में भारी हिमपात (Snowfall) और मैदानी क्षेत्रों में भारी बारिश (Heavy Rainfall) की चेतावनी जारी की है.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश में मुसीबत अभी और बढ़ने वाली है, क्योंकि प्रदेश में अगले एक हफ्ते तक मौसम खराब रहने वाला है. मौसम विभाग के अनुसार आज से प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ (Westerly Disturbance) सक्रिय रहने वाला है. इसका असर प्रदेश में 15 जनवरी तक देखने को मिलेगा. इतना ही नहीं मौसम विभाग ने 13 जनवरी को प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में और मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में भारी हिमपात (Heavy Snowfall)  और मैदानी क्षेत्रों में भारी बारिश (Heavy Rainfall) की चेतावनी जारी की है. 13 जनवरी को प्रदेश में अलर्ट का सबसे ज्यादा असर शिमला, कुल्लू, किन्नौर, लाहौल स्पीति, चंबा, कांगडा, मंडी और सिरमौर में देखने को मिलेगा.


13 जनवरी के जारी हुआ अलर्ट

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह के अनुसार 8 जनवरी के दिन जैसा हैवी स्पैल हुआ था, उसी तरह 13 जनवरी को भी भारी बर्फबारी होने की संभवनाएं जताई जा रही हैं. बुधवार को हुई बर्फबारी के चलते पूरे प्रदेश शीत लहर की चपेट में है. वहीं राजधानी में भी करीब 10 सालों के बाद तापमान माइनस 3 डिग्री के करीब पहुंचा था. इससे पहले साल 2008 में राजधानी में तापमान -4.4 था. वहीं केलांग में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान -17.6 डिग्री दर्ज किया गया. साल 2008 में ये तापमान -18.4 रहा है. मौसम विभाग के अनुसार जनवरी में दर्ज किया गया ये तापमान पिछले एक दशक में सबसे कम था. वहीं आने वाले दिनों में भी तापमान के और कम होने की संभावना है.

Manmohan Singh
मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह के अनुसार 13 जनवरी को भी भारी बर्फबारी हो सकती है.




आज से प्रदेश में सक्रिय होगा पश्चिमि विक्षोभ

मनमोहन सिंह ने बताया कि मौसम का कहर यहीं नहीं थमेगा, क्योंकि मौसम विभाग के अनुसार 15 जनवरी को फिर पश्चिमि विक्षोभ सक्रिय होने वाला है, जिसका असर 17 जनवरी तक रहेगा, जिसका सबसे ज्यादा असर प्रदेश में 16 जनवरी को देखने को मिलेगा. 16 जनवरी को प्रदेश के मध्यपर्वतीय और पहाड़ी स्थानों में फिर बर्फबारी के आसार हैं. इस बार विंटर सीजन में बर्फबारी का दौर जल्दी शुरू हो गया है. ऐसे में हिमस्खलन की घटनाएं भी लगातार हो रही हैं. 13 जनवरी को होने वाली बर्फबारी के बाद हिमस्खलन का खतरा और बढ़ जाएगा, जिसे लेकर मौसम विभाग ने शिमला, कुल्लू, किन्नौर और लाहौल स्पीति के ऊपरी इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया है.

इमरजेंसी के लिए प्रशासन ने जारी किए दो नंबर

उन्होंने बताया कि मौसम के लगातार खराब होने के चलते मौसम विभाग ने प्रदेश भर में निर्देश जारी कर दिए हैं. जिला प्रशासन को हर समस्या से निपटने के लिए तैयार रहने की हिदायत दी गई है. वहीं स्थानीय लोगों को मौसम देख कर ही घर से बाहर निकलने के निर्देश दिए गए हैं. रास्तों पर जगह जगह पर कोहरा जमा होने के चलते फिसलने का डर और दुर्घटना होने का खतरा लगातार बना हुआ है. ऐसे में लोगों को सावधानी से चलने के लिए और जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकले को कहा गया है. वहीं पहाड़ी क्षेत्रों में भारी बर्फबारी का और हिमस्खलन कर अलर्ट होने के चलते पर्यटकों को ट्रैकिंग न करने और बर्फवाले क्षेत्रों में नहीं जाने के निर्देश जारी किए गए हैं. वहीं इमरजेंसी के लिए प्रशासन ने 112 और 1077 दो नंबर भी जारी कर दिए हैं.

यह भी पढ़ें: कंपकंपाती ठंड में चटाई पर बैठकर छात्रों को देनी पड़ी नवोदय विद्यालय की प्रवेश परीक्षा

हिमाचल : सुंदरनगर में NH-21 पर युवती से 41.03 ग्राम चिट्टा जब्त, गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 11, 2020, 1:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर