आउटसोर्स कर्मियों को झटका, अनुबंध पर नहीं लाएगी हिमाचल सरकार

सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने कहा कि कंपनियां कर्मचारियों का शोषण न करे, इसके लिए सरकार सख्त है. सरकार ने कर्मचारियों की दिहाड़ी बढ़ाकर 250 रुपये की है. जिससे आउटसोर्स कर्मचारियों (Outsource Employee) को प्रतिमाह 750 रुपये का फायदा हो रहा है.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 30, 2019, 4:43 PM IST
आउटसोर्स कर्मियों को झटका, अनुबंध पर नहीं लाएगी हिमाचल सरकार
हिमाचल में आउटसोर्स कर्मियों का मामला.
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 30, 2019, 4:43 PM IST
हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में आउटसोर्स कर्मचारियों (Outsource Employees) को सरकार न तो नियमित करेगी और ना ही कोई पॉलिसी बनेगी. यह बात सीएम जयराम ठाकुर आज विधानसभा में स्पष्ट किया.

हिमाचल विधानसभा के मॉनसून सत्र (Monsoon Session) के दसवां दिन में कांग्रेस विधायकों ने यह मुद्दा उठाया था, जिसमें नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह, मोहन लाल ब्रॉक्टा सहित कई नेताओं ने अपनी बात रखी.

यह बोले सीएम
सीएम जयराम ठाकुर ने साफ किया कि आउटसोर्स कर्मचारी सरकार के नहीं बल्कि कंपनी के हैं. कांग्रेस सरकार में 2017 में बने नियमों के मुताबिक, आउटसोर्स कर्मचारियों को सैलरी दी जाती है, लेकिन उन्हें सरकार नियमित या अनुबंध पर नहीं ला सकती है, इसके लिए सरकार नियमित भर्तियां करती हैं.

यह बोली कांग्रेस
नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने सरकार से इन्हें अनुबंध पर लाने और ठोस नीति बनाने की भी मांग की थी. साथ ही यह भी कहा गया कि कंपनियां आउटसोर्स कर्मचारियों का शोषण करती हैं. हिमाचल में वर्तमान में 12 हजार 165 आउटसोर्स कर्मचारी हैं, जिन्हें कंपनियों के माध्यम से 153 करोड़ 19 लाख रूपये वितरित किया जाता है. इनमें से कंपनियां अपने पास 23 करोड़ रुपये रखती हैं. जिसमें 90 से ज्यादा कंपनियां शामिल हैं. कंपनियों की राशि का कुछ हिस्सा जीएसटी और स्टेट जीएसटी का भी है. लेकिन सवाल यह उठता है कि इतनी बड़ राशि कंपनियों को देने की बजाए सरकार कर्मचारियों को क्यों नहीं देती है?

कांग्रेस के सवाल पर सीएम का जवाब
Loading...

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कंपनियां कर्मचारियों का शोषण न करे, इसके लिए सरकार सख्त है. सरकार ने कर्मचारियों की दिहाड़ी बढ़ाकर 250 रुपये की है. जिससे आउटसोर्स कर्मचारियों को प्रतिमाह 750 रुपये का फायदा हो रहा है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में अब जबरन धर्मांतरण पर 5 साल की कैद

गरीबी का फायदा उठाकर कुछ संस्थाएं करवा रही धर्म परिवर्तन: CM

अगवा हिमाचली किशोरी से पंजाब में गैंगरेप, चंडीगढ़ से बरामद

PHOTOS: मनाली में 9000 फीट की ऊंचाई पर हवा में Cycling!

पार्षद रोमी ने 1 लाख रुपये से भरा बैग लौटा दिखाई ईमानदारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 4:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...