होटल बुकिंग के नाम पर बड़ा फ्रॉड! OYO कंपनी के खिलाफ शिकायत

कंपनी के नाम-पते की बात करें तो हिमाचल में शिमला में ही OYO का ऑफिस है. इस ऑफिस में जब News 18 की टीम कंपनी का पक्ष जानने पहुंची तो यहां काम कर रहे लोगों ने बताया कि वो कंपनी का पक्ष रखने के लिए अधिकृत नहीं हैं.

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 18, 2019, 4:54 PM IST
होटल बुकिंग के नाम पर बड़ा फ्रॉड! OYO कंपनी के खिलाफ शिकायत
ओयो होटल बुकिंग के नाम पर सैलानियों को ठग रहा है. शिमला में शिकायत दर्ज हुई है.
Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 18, 2019, 4:54 PM IST
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने दुनियाभर में मशहूर एक प्रतिष्ठित कंपनी को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है. ऑनलाइन होटल बुकिंग करने वाली OYO कंपनी के खिलाफ शिमला के सदर थाने में धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज हो चुकी है. इस शिकायत के दर्ज होते ही एक बड़े फ्रॉड की आशंका जताई जा रही है.

होटल पहुंचे तो नहीं मिला कमरा
विमल गोयल अपने 11 साथियों के साथ शिमला घुमने आए थे. इस ग्रुप ने OYO के जरिए राम बाजार में एक होटल में 4 कमरे बुक करवाए थे. बुकिंग करने के साथ ही एडवांस के रूप में 2500 रुपये भी कंपनी के खाते में जमा करवाए. भारी बारिश के बीच अपना सामान उठाकर यह ग्रुप जब होटल पहुंचा तो पता चला कि इनके नाम पर यहां कोई कमरा बुक ही नहीं है.

ओयो से करार खत्म: होटल

होटल मालिक दिनेश कुकरेजा ने जब कहा कि OYO के साथ उनका करार काफी समय पहले ही खत्म हो गया है. अगर यहां रहना है तो होटल के रेट के हिसाब से पैसा देना होगा. OYO के हिसाब से यहां किसी तरह की कोई बुकिंग नहीं होती है. यह सुनकर पूरा ग्रूप हक्का-बक्का रह गया. शिमला के एसपी ओमापति जम्वाल ने शिकायत मिलने की पुष्टि की है.

‘कंपनी धोखा कर रही है’
जब इस तरह की परेशानी आती है तो OYO की ओर किसी भी तरह की मदद नहीं मिलती. यहां तक कि फोन तक नहीं सुने जाने का दावा यह प्रर्यटक कर रहे हैं. होटल मालिक तो दावा कर रहे हैं कि यह कंपनी फ्रॉड कर रही है. होटल मालिकों को भी अलग से चूना लगाया जा रहा है. लाखों की पेमेंट फंस गई है. बड़ी बात इसमें यह भी है कि अगर होटल मालिक ने अपना करार खत्म कर दिया है. बाकायदा ई-मेल कर सूचना दे दी गई है. इसके बावजूद कैसे OYO की बेवसाइट या फिर एप्प पर यह होटल कैसे दिख रहा है और ग्राहक इसे ले भी रहे हैं. पड़ताल के दौरान सामने आई कि होटलों को नाम भी बदल दिए जाते हैं. पर्यटक की शिकायत यह भी है कि कंपनी दिखाती कुछ है और होता कुछ और है. विमल अब पुलिस में शिकायत दर्ज करवा चुके हैं.
Loading...

केस किया तो पैसे वापस मिले
एक होटल मालिक न्यूज18 से ऑन कैमरा में कुछ कहने से इंकार कर दिया, लेकिन बताया कि कुछ समय पहले OYO कंपनी उनके साथ भी धोखाधड़ी की थी. इसकी शिकायत सदर थाने में की गई. पुलिस केस के बाद ही होटल मालिक को अपने पैसे वापस मिले. उन्होंने बताया कि शहर के अलावा गांवों तक में ओयो ने अपनी जड़ें जमा ली हैं. जब हमने बेवसाइट के बारे में खंगाला तो कहीं से भी कंपनी का नंबर नहीं मिला. हर जगह कस्टमर केयर का ही नंबर दिया गया है. अगर बुकिंग के बाद कोई गड़बड़ी की शिकायत करनी हो तो उस स्थिति में कंपनी के किसी दूसरे अधिकारी का नंबर नहीं मिलता.

80 देशों में सर्विस का दावा
OYO का ट्विटर हैंडल दावा कर रहा है कि दुनिया के 80 से ज्यादा देशों में यह अपनी सर्विस दे रहा है. भारत समेत दुनियाभर में 23 हजार से ज्यादा होटल, 8 लाख 50 हजार कमरे और 46000 होलीडे होम में अपनी सर्विस देने का दावा किया गया है.ट्विटर पर रितेश अग्रवाल नाम का एक युवक है जिसने अपनी बायो में लिखा है कि वह ओयो का फॉउंडर और CEO है.

‘हम बात करने के लिए अधिकृत नहीं’
कंपनी के नाम-पते की बात करें तो हिमाचल में शिमला में ही OYO का ऑफिस है. इस ऑफिस में जब News 18 की टीम कंपनी का पक्ष जानने पहुंची तो यहां काम कर रहे लोगों ने बताया कि वो कंपनी का पक्ष रखने के लिए अधिकृत नहीं हैं.

ये भी पढ़ें: सोलन में एक और 3 मंजिला भवन गिरने की कगार पर, खाली करवाया

कुल्लू-मनाली में सड़क हादसे: 1 मौत, थाना प्रभारी समेत 3 घायल

चीन नहीं, तिब्बत करेगा मेरे उत्तराधिकारी का फैसला: दलाई लामा

शिमला से शिफ्ट नहीं होगा सेना प्रशिक्षण कमान का मुख्यालय

नाहन में नाबालिग से रेप के दोषी को सात साल की सजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 18, 2019, 2:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...