अपना शहर चुनें

States

हिमाचल पंचायत चुनाव: जेपी नड्डा ने भी डाला वोट, 12 बजे तक 39.96% मतदान

बिलासपुर में जेपी नड्डा ने डाला वोट.
बिलासपुर में जेपी नड्डा ने डाला वोट.

Panchayat Elections in Himachal: हिमाचल प्रदेश में पंचायतों की 27 जनवरी की पहली बैठक में प्रधान ही नए पंचों को शपथ दिलाएंगे. नए चुने गए प्रधानों और उप प्रधानों को 22 से 26 जनवरी तक संबंधित एसडीएम शपथ दिलाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 1:52 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में पंचायती राज चुनाव (Elections) के दूसरे चरण के लिए मंगलवार को 1208 पंचायतों में मतदान होगा.सुबह 10 बजे तक 18.20 फीसदी मतदान हुआ था. वहीं,  12 बजे तक 39.96% वोटिंग हुई है. कोरोना संक्रमित और होम क्वारंटीन मतदान 4 बजे के बाद मतदान कर सकेंगे.

इसके बाद देर शाम तक नतीजे आएंगे, जबकि जिला परिषद और पंचायत समिति के सदस्यों के नतीजे 22 जनवरी को घोषित होंगे. दूसरे चरण के चुनाव के लिए 7,160 पोलिंग पार्टियां तैनात की गई हैं. तीसरे और अंतिम चरण में 21 जनवरी को 1,137 पंचायतों में मतदान (Voting) होगा. वहीं,17 जनवरी को पहले चरण के मतदान में 1228 पंचायतों की सरकार चुनी जा चुकी है.

नड्डा भी डालेंगे वोट
बिलासपर से भाजपा (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मंगलवार को सुबह 11 बजे अपनी गृह पंचायत में बीडीसी और जिला परिषद सदस्य के चुनाव के लिए राजकीय प्राथमिक पाठशाला विजयपुर में मतदान किया है. नड्डा की गृह पंचायत विजयपुर में प्रधान, उप प्रधान और वार्ड सदस्यों को निर्विरोध चुन लिया गया है.
एसडीएम शपथ दिलाएंगे


हिमाचल प्रदेश में पंचायतों की 27 जनवरी की पहली बैठक में प्रधान ही नए पंचों को शपथ दिलाएंगे. नए चुने गए प्रधानों और उप प्रधानों को 22 से 26 जनवरी तक संबंधित एसडीएम शपथ दिलाएंगे. कुल 3585 पंचायतों के लिए नए प्रधान, उप प्रधान और वार्ड पंच चुनाव के माध्यम से चुने जा रहे हैं.

क्या बोले मंत्री
मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण इस बार प्रधानों और उप-प्रधानों को मुख्यमंत्री द्वारा मण्डलस्तरीय सम्मेलनों में शपथ दिलाना संभव नहीं हो पा रहा है, इसलिए मुख्यमंत्री ने निर्णय लिया है कि ग्राम पंचायतों के प्रधानों व उप-प्रधानों को हिमाचल प्रदेश पंचायती राज अधिनियम, 1994 की धारा 127 और सामान्य नियम 1997 के नियम 22 के प्रावधानों के अंतर्गत 22 जनवरी से 26 जनवरी के दौरान संबंधित उप-मण्डलाधिकारी, नागरिक द्वारा खण्ड स्तर पर शपथ दिलाई जाएगी. उप-मण्डलाधिकारी, नागरिक इस दौरान प्रधानों व उप-प्रधानों की संख्या और शपथ स्थल में स्थान की उपलब्धता के मद्देनजर एक दिन या अलग-अलग दिनों विभिन्न समूहों में प्रधानों व उप-प्रधानों को शपथ दिलाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज