पांवटा साहिब में धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी का मामला, पुलिस के हाथ अब तक खाली

धार्मिक ग्रंथ से बेअदबी की जांच में जुटी है हिमाचल पुलिस.
धार्मिक ग्रंथ से बेअदबी की जांच में जुटी है हिमाचल पुलिस.

पांवटा साहिब की मेलियो मस्जिद में शरारती तत्वों द्वारा धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पुलिस प्रशासन को कार्रवाई के लिए सोमवार रात तक का समय दिया है. पुलिस अब तक शरासती तत्वों तक नहीं पहुंच पाई है, हालांकि पुलिस इस मामले की छानबीन में लगी हुई है.

  • Share this:
पांवटा साहिब की मेलियो मस्जिद में शरारती तत्वों द्वारा धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पुलिस प्रशासन को कार्रवाई के लिए सोमवार रात तक का समय दिया है. पुलिस अब तक शरासती तत्वों तक नहीं पहुंच पाई है, हालांकि पुलिस इस मामले की छानबीन में लगी हुई है.

उपमंडल पांवटा साहिब की मेलियों मस्जिद में धार्मिक ग्रंथ जलाने के बाद क्षेत्र के गुस्साएं हजारों लोगों ने बीते शुक्रवार  को नेशनल हाइवे-7 पर जोरदार प्रदर्शन किया था. इस दौरान रैली निकाल मुस्लिम समुदाय ने आरोपियों को जल्द पकड़ कर फांसी की सजा दिलाने की मांग की है.

बता दें की इस मामले को लेकर 6 दिसंबर को भी पुलिस प्रशासन और मुस्लिम समुदाय के लोगो के बीच हुई बैठक बेनतीजा रही थी. जिसके बाद 8 दिसंबर को मुस्लिम समुदाय के हजारों लोगों नेजोरदार प्रदर्शन भी किया था.



गौरतलब है की 3 दिसंबर की रात को अज्ञात शरारती तत्वों ने  मेलियो मस्जिद में धार्मिक ग्रंथ को आग के हवाले कर दिया था. इसके इलावा 8 अक्टूबर और 4 नवम्बर को भी पिपलीवाला मस्जिद में सूतली बम से धमाका किया गया था, लेकिन आज तक इस वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात बदमाश पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं.
इन दो मामलों से पहले भी इस क्षेत्र में हिंदू-मुस्लिम भाईचारे को तोड़ने की कोशिशें की जा चुकी है. पहले भी इसी मजिस्ट की पानी की टंकी में जहरीली चीज मिलाकर भावनाओं को भड़काने का काम किया जा चुक है. इस तरह की वारदातें किसी न किसी साजिश की तरफ इशारा जरूर करता है. इस पूरे मामले को लेकर पुलिस की दिक्कतें बढ़ सकती हैं, हालांकि पुलिस की छानबीन प्रक्रिया जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज