लाइव टीवी

VIDEO: चौपाल में बीमार होना मना है! सड़क है नहीं, पीठ पर मरीज, पैदल डगर भी नहीं आसां

Pankaj Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 10, 2020, 4:46 PM IST
VIDEO: चौपाल में बीमार होना मना है! सड़क है नहीं, पीठ पर मरीज, पैदल डगर भी नहीं आसां
चौपाल में पीठ पर ले जाने पड़ रहे हैं मरीज.

No road facility in Chopal: भाजपा के चौपाल विधायक बलबीर वर्मा ने हाल ही में एक मीडिया चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि चौपाल की 64 पंचायतों में सारी सड़कें पक्की कर दी गई हैं. विधायक ने कहा कि 2012 में एक भी सड़क पक्की नहीं थी.

  • Share this:
चौपाल (शिमला). यहाँ बीमार (Patient) होना मना है. क्योंकि बीमारी में कब तक आप अस्पताल (Hospital) पहुंच पाएंगे, यह तय नहीं है. अस्पताल पहुंचाने के लिए कंधे सहारा हैं. रास्ता भी इतना खतरनाक है कि इस दौरान जरा सी चूक से जान जा सकती है. मामला हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) का है.

जानकारी के अनुसार, राजधानी शिमला से 100 किलोमीटर दूर चौपाल (Chopal) उपमण्डल की धन्नत पंचायत में सड़क सुविधा नहीं हैं. मरीजों को पीठ पर लादकर मुख्य मार्ग तक ले जाना पड़ता है. वहां से भी गाड़ी या एंबुलेंस के जरिये अस्पताल ले जाते हैं. यहां के आरा और गागलना गांव में भी सड़क नहीं है. मुख्य सड़क के लिए चार से पांच किमी. का सफर तय करना पड़ता है. वहां से नेरवां में अस्पताल के लिए 45 किमी सफर तय करना पड़ता है.

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो
सोशल मीडिया पर वायरल हो रही धन्नत पंचायत के कुम्हारला गाँव की इन तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि यहां मोटर मार्ग तो छोड़िए ग्रामीणों के पैदल चलने के लिए रास्ता तक नहीं है. गांव में लोग बीमार होने पर पीठ पर लादने के बाद अस्पताल तक पहुंचते हैं.वीडियो में एक शख्स बता रहा है

कि रास्ता कितना खतरनाक है और पीठ पर लादकर मरीज को ले जाना पड़ रहा है.

चौपाल विधायक का दावा
भाजपा के चौपाल विधायक बलबीर वर्मा ने हाल ही में एक मीडिया चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि चौपाल की 64 पंचायतों में सारी सड़कें पक्की कर दी गई हैं. विधायक ने कहा कि 2012 में एक भी सड़क पक्की नहीं थी.ये भी पढ़ें: दिल्ली सरकार को खूब कोसा, लेकिन हिमाचल में 9850 मेधावियों को लैपटॉप का इंतजार

हिमाचल की दवा इंडस्ट्री पर कोरोना वायरस का असर, उत्पादन पर संकट

चौकीदार और उसकी ‘दबंग’ बीवी से परेशान APMC कांगड़ा के सचिव और कर्मचारी, FIR

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 3:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर