VIDEO: बिजली, पानी और सड़क की समस्या से जूझ रहे शिमला जिले के इस गांव के लोग

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले का नरैण पंचायत का मढ़ोग गांव आज भी विभिन्न समस्याओं से जूझ रहा है. यहां पर हर घर को बिजली पहुंचाने के सरकारी दावे हवा हवाई साबित हो रहे हैं. अभी तक इस गांव में बिजली की लाइन नहीं पहुंच पाई है, पोल लगाने का काम पिछले तीन महीने से बंद पड़ा है. इसी तरह प्रधाममंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनने वाली दलोग-चाशनी-मढ़ोग सड़क का काम दो साल में भी पूरा नहीं हो पाया है. ठेकेदार ने काम पर सिर्फ 3-4 आदमी ही काम पर लगाए है और अपनी ऊंची पहुंच का वास्ता देकर काम में जानबूझ कर देरी कर रहा है. नाबार्ड के तहत पानी की आपूर्ति के लिए 1 करोड़ 19 लाख की योजना स्वीकृत हुई थी लेकिन उसका काम भी संतोषजनक नहीं हुआ. मुख्य स्त्रोत पर भंडारण टैंक नहीं बनाया गया बल्कि प्लास्टिक की पाइप से फिल्टर टैंक तक पानी पहुंचाया गया.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले का नरैण पंचायत का मढ़ोग गांव आज भी विभिन्न समस्याओं से जूझ रहा है. यहां पर हर घर को बिजली पहुंचाने के सरकारी दावे हवा हवाई साबित हो रहे हैं. अभी तक इस गांव में बिजली की लाइन नहीं पहुंच पाई है, पोल लगाने का काम पिछले तीन महीने से बंद पड़ा है. इसी तरह प्रधाममंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनने वाली दलोग-चाशनी-मढ़ोग सड़क का काम दो साल में भी पूरा नहीं हो पाया है. ठेकेदार ने काम पर सिर्फ 3-4 आदमी ही काम पर लगाए है और अपनी ऊंची पहुंच का वास्ता देकर काम में जानबूझ कर देरी कर रहा है. नाबार्ड के तहत पानी की आपूर्ति के लिए 1 करोड़ 19 लाख की योजना स्वीकृत हुई थी लेकिन उसका काम भी संतोषजनक नहीं हुआ. मुख्य स्त्रोत पर भंडारण टैंक नहीं बनाया गया बल्कि प्लास्टिक की पाइप से फिल्टर टैंक तक पानी पहुंचाया गया.



(रामपुर बुशहर से आत्मा सिंह की रिपोर्ट)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज