Home /News /himachal-pradesh /

PM Modi Security Lapse: कांग्रेस MLA विक्रमादित्य बोले-सुरक्षा में हुई चूक, जांच करे पंजाब सरकार

PM Modi Security Lapse: कांग्रेस MLA विक्रमादित्य बोले-सुरक्षा में हुई चूक, जांच करे पंजाब सरकार

हिमाचल कांग्रेस के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने पीएम मोदी की सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर पंजाब सरकार पर सवाल उठाए हैं.

हिमाचल कांग्रेस के विधायक विक्रमादित्य सिंह ने पीएम मोदी की सुरक्षा से जुड़े मुद्दे पर पंजाब सरकार पर सवाल उठाए हैं.

PM Modi Security Lapse: विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditya Singh) ने सोशल मीडिया पर लिखा कि वैसे तो पंजाब सरकार पर टिप्पणी करना हमारे कार्य अधिकार से अलग है, मगर पिछले कल जो घटनाक्रम वहां पर हुए हैं, वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. देश के प्रधानमंत्री चाहे किसी भी राजनैतिक दल से क्यों न हो, उनकी सुरक्षा में चूक नहीं होनी चाहिए. पंजाब सरकार इस मामले की जांच करे.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी की बठिंडा रैली को लेकर हुई ‘सुरक्षा चूक’ (PM Modi Security Lapse) को लेकर सियासत गर्म हो गई है. हिमाचल में सीएम जयराम ठाकुर ने जहां गृह मंत्री से मामले की जांच की मांग की है. वहीं, हिमाचल कांग्रेस के विधायक विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditya Singh) ने मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी से हटकर बयान दिया है. उन्‍होंने पंजाब सरकार से पूरे मामले की जांच की मांग की है और साथ ही अफसरों पर भी कार्रवाई करने की बात कही है.

विक्रमादित्य सिंह ने सोशल मीडिया पर लिखा कि वैसे तो पंजाब सरकार पर टिप्पणी करना हमारे कार्य अधिकार से अलग है, मगर पिछले कल जो घटनाक्रम वहांं पर हुए हैं, वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. देश के प्रधानमंत्री, चाहे किसी भी राजनैतिक दल से क्यों न हो (हम भी उनकी और उनके दल की राजनैतिक सोच से बिलकुल भी इत्तफ़ाक नहीं रखते). उनकी सुरक्षा में इस तरीके का लैप्स हैरान करने वाला है. इसकी जाब सरकार को तुरंत जांंच करवानी चाहिए और जिन अधिकारियों की ओर से इसमें कमी पाई गई है, उन पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए.

आगे क्या बोले विक्रमादित्य सिंह
विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि जो तर्क दिया गया है कि प्रधानमंत्री हेलीकॉप्टर से सभा स्थल तक पहुंंचने का कार्यक्रम था, इसीलिए यातायात का इंतजाम पूर्ण रूप से नहीं किया गया था, ठीक नहीं है. क्योंकि हम जानते हैं, जब इस स्तर के VVIP का कार्यक्रम होता है तो ऑल्टरनेट रूट भी तत्कालीन परिस्थिति में निष्क्रमण के लिए रखे जाते हैं, ताकि किसी भी परिस्थिति में उन्हें वहां से सुरक्षित बाहर निकाला जा सके. कांग्रेस शासित राज्य होने के चलते प्रशासन को इस चीज का और ध्यान रखना चाहिए था कि इस तरह की कोई भी चूक प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में ना हों, ताकि राजनैतिक दृष्टि से कोई उंगली न उठा सके, अब चूक हुई है, तो कार्रवाई भी निश्चित तौर से होनी चाहिए. इस घटनाक्रम को रजनैतिक दृष्टिकोण से देखने की कोई आवश्यकता नहीं. बता दें कि विक्रमादित्य सिंह हिमाचल के शिमला ग्रामीण से कांग्रेस विधायक हैं और सूबे के छह बार के सीएम रहे दिवंगत वीरभद्र सिंह के बेटे हैं.

Tags: BJP Congress, CM Punjab, Himachal pradesh, PM Modi, Shimla, Shimla police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर