Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल में तेल, प्याज और टमाटर के बढ़े दाम पर बोले BJP नेता- कोरोना के कारण बढ़ी महंगाई

हिमाचल में तेल, प्याज और टमाटर के बढ़े दाम पर बोले BJP नेता- कोरोना के कारण बढ़ी महंगाई

गणेश दत्त का कहना है कि महंगाई का समर्थन नहीं किया जा सकता और सरकार इससे मुहं भी नहीं मोड़ रही है.

गणेश दत्त का कहना है कि महंगाई का समर्थन नहीं किया जा सकता और सरकार इससे मुहं भी नहीं मोड़ रही है.

हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव के दौरान महंगाई सबसे बड़ा मुद्दा बन गया है. कांग्रेस तेल, प्याज और टमाटर की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार को घेर रही है. वहीं, बीजेपी (BJP) का कहना है कि महंगाई कोरोना के कारण बढ़ी है.

शिमला. देश में महंगाई (Inflation) आसमान छू रही है. खाने-पीने की चीजों से लेकर पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों से जनता परेशान है. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में उप चुनावों का दौर चल रह है और विपक्ष इन चुनावों में महंगाई के मुद्दे को भुनाने में जुटा हुआ है. कांग्रेस प्रत्याशियों से लेकर हर नेता महंगाई पर सरकार को घेरने में जुटे हुए हैं. और सत्ताधारी दल महंगाई के मुद्दे पर सरकार का बचाव करता हुआ नजर आ रह है. हर रोज भाजपा (BJP) के नेता प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं और महंगाई पर घिर रहे हैं. भाजपा चुनाव समिति के राज्य प्रमुख गणेश दत्त (Ganesh Dutt) का मानना है कि महंगाई सरकार के हाथ में नहीं है. वे महंगाई के लगातार बढ़ने के लिए कोविड को जिम्मेदार मान रहे हैं.

गणेश दत्त का कहना है कि महंगाई का समर्थन नहीं किया जा सकता और सरकार इससे मुहं भी नहीं मोड़ रही है. उनका कहना है कि महंगाई के लिए अलग-अलग कारण जिम्मेदार हैं. कोविड के चलते कई फैक्टरियों में उत्पादन गिरा है. मैन पावर की कमी होने से प्रोडक्शन कम हुआ है जिसके चलते जरूरी वस्तुओं के दाम बढ़ रहे हैं. गणेश दत्त का मानना है कि विपदा के कारण ये समस्या खड़ी हुई है. महंगाई प्रकृति पर निर्भर है. कई बार अतिवृष्टि होती है, कई बार अनावृष्टि और सूखे जैसी स्थितियों से भी महंगाई बढ़ जाती है. उनका कहना है कि कांग्रेस महंगाई पर दुष्प्रचार कर रही है. महंगाई स्थाई नहीं अस्थाई है. जरूरी वस्तुओं के दाम घटते बढ़ते रहते हैं.

सत्ताधारी दल के नेता बेबस नजर आ रहे हैं
इतना ही नहीं वो आंकड़े दे रहे हैं कि मोदी सरकार के 7 साल के कार्यकाल में महंगाई की उच्चतर दर  6.62 प्रतिशत रही है, जबकि यूपीए सरकार के समय महंगाई दर 11.99 फीसदी तक चली गई थी. वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस प्रवक्ता नरेश चौहान निशाना साध रहे हैं कि सरकार बताए पेट्रोल-डीजल से सरकार ने कितना लाख करोड़ रुपए इक्ट्ठा किया. और उस पैसे से जनता को क्या फायदा मिला. फायदा मिला तो क्यों खाद्द तेल की कीमत 210 रुपए के पार है. नरेश चौहान का कहना है कि ये समय जनता को राहत देने का है. लेकिन सरकार राहत देने के बजाए जनता पर टैक्स के जरिए बोझ बढ़ा रही है. विपक्ष के तर्कों के आगे सत्ताधारी दल के नेता बेबस नजर आ रहे हैं.

Tags: BJP, By election, Congress, Himachal pradesh news, Shimla News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर