हिमाचल के आखिरी गांव बड़ा भंगाल-डोडरा क्वार के लिए पोलिंग टीम रवाना

मौसम खराब होने के कारण पोलिंग पार्टी को हेलिकॉप्‍टर से मतदान स्‍थल पर नहीं भेजा जा रहा है.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 16, 2019, 7:53 PM IST
हिमाचल के आखिरी गांव बड़ा भंगाल-डोडरा क्वार के लिए पोलिंग टीम रवाना
शिमला का डोडरा क्वार इलाका. (फाइल फोटो)
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 16, 2019, 7:53 PM IST
लोकसभा चुनाव के लिए अंतिम चरण में हो रहे मतदान के लिए हिमाचल प्रदेश पूरी तरह तैयार है. 19 मई को हिमाचल की चार लोकसभा सीटों के लिए मतदान होना है, जिसके लिए पोलिंग पार्टियों को रवाना करने का सिलसिला शुरू हो गया है.

हिमाचल में चार लोकसभा सीटों के लिए चुनाव प्रचार का शोर कल शाम 6 बजे थम जाएगा. मतदान से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार पर रोक लगेगी और 19 मई को मतदान होना है. इस दौरान बारिश के बीच चुनाव आयोग ने पोलिंग पार्टियों को रवाना करना शुरू कर दिया है.



शिमला जिले के डोडरा क्वार के लिए गुरुवार को 7 पोलिंग पार्टियों को रोहडू से रवाना किया गया है, जबकि कांगड़ा जिले के दुर्गम क्षेत्र बड़ा भंगाल के लिए बुधवार को ही एक पोलिंग पार्टी रवाना की गई. हालांकि, मौसम साफ न होने के चलते हेलिकॉप्टर के जरिये इन्हें नहीं भेजा जा सका. बाकी बची 7586 पोलिंग पार्टियों को 17 मई को रवाना किया जाएगा.

3 किलोमीटर चलना होगा पैदल

उधर, 136 महिला संचालित पोलिंग स्टेशनों की पोलिंग पार्टियों को 18 मई को रवाना किया जाना है. अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डीके. रत्तन ने इसकी पुष्टि की है. साथ ही यह भी कहा कि 7730 पोलिंग स्टेशनों में से एक पोलिंग स्टेशन पांगी क्षेत्र का थांडल है, जिसकी सड़क बर्फबारी के चलते बहाल नहीं हुई है. यहां पर पोलिंग पार्टी को 3 किलोमीटर पैदल सफर तय कर पहुंचना पड़ेगा.

कहां है डोडरा क्वार और बड़ा बंगाल
डोडरा क्वार शिमला जिले के रोहडू में आता है. यह हिमाचल का आखिरी गांव है. शिमला से करीब 145 किमी दूर है. यहां पहुंचने के लिए पैदल सफर करना पड़ता है. इसके अलावा, बड़ा बंगाल बैजनाथ में आता है. यहां पहुंचने के लिए 78 किमी की पैदल यात्रा करनी पड़ती है.
Loading...

शराब के ठेके रहेंगे बंद
हिमाचल में 10 मार्च को लगी आचार संहिता के बाद शुरू हुए चुनाव प्रचार का शोर 17 मई शाम 6 बजे थम जाएगा. इसके साथ ही 48 घंटे तक किसी भी प्रकार से चुनाव प्रचार नहीं होगा. चुनाव आयोग ने शराब के ठेकों को भी मतदान से 48 घंटे पहले से ही बंद करने के निर्देश दिए हैं. 17 मई शाम 6 बजे से 19 मई शाम 6 बजे तक शराब के ठेके बंद रहेंगे. बाहरी नेताओं को भी कल शाम 6 बजे से पहले संसदीय क्षेत्र को छोड़ना होगा.

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डीके रत्तन ने कहा कि मतदाता निर्भीक होकर मतदान कर सकें, इसके लिए सुरक्षा का व्यापक प्रबंध किया गया है. अर्द्धसैनिक बल की 47 कंपनियां हिमाचल पहुंच गई हैं, जबकि बाहरी राज्यों से पुलिस और होमगार्ड के जवान भी बुलाए गए हैं। डी के रत्तन ने हिमाचल के तमाम मतदाताओं से भी अपील की है कि बढ़चढ़ मतदान में हिस्सा लें, पिछली बार 64 फीसदी मतदान हुआ था, इस बार 100 प्रतिशत मतदान के लिए सभी कोशिश करें.

मौसम बन सकता है बाधा
हिमाचल में इन दिनों मौसम खराब है, जो चुनाव आयोग के लिए चुनौती से कम नहीं है. मौसम विभाग की ओर से 21 मई तक मौसम खराब रहने का अनुमान है. उधर, उम्मीद की जा सकती है कि हर बार की तरह इस बार भी हिमाचल में शांतिपूर्वक मतदान होगा.

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...