• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • President Shimla Visit: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन, परमार से लेकर वीरभद्र सिंह का जिक्र

President Shimla Visit: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन, परमार से लेकर वीरभद्र सिंह का जिक्र

महामहिम शिमला में 4 दिन तक ठहरेंगे और 19 सितंबर को दिल्ली लौटेंगे.

महामहिम शिमला में 4 दिन तक ठहरेंगे और 19 सितंबर को दिल्ली लौटेंगे.

President Ram Nath Kovind Shimla Visit: महामहिम शिमला में 4 दिन तक ठहरेंगे और 19 सितंबर को दिल्ली लौटेंगे. राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने भाषण में अटल टनल का भी जिक्र किया. साथ ही उन्होंने कहा कि वह पहली बार साल 1974 में हिमाचल आए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व के स्वर्णिम वर्ष पर हिमाचल विधानसभा का विशेष सत्र आयोजन किया गया. इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ सिंह (President Ram Nath Kovind) ने विशेष सत्र को संबोधित किया. वह ऐसे तीसरे राष्ट्रपति बने हैं, जिन्होंने हिमाचल की विधानसभा को संबोधित किया है. इससे पहले, विधानसभा (Himachal Assembly) के स्पीकर विपिन सिंह परमार ने महामहिम का धन्यावाद किया. इस दौरान उन्होंने रामनाथ कोविंद का शिमला आने पर आभार जताया. साथ ही हिमाचल विधानसभा के इतिहास के बारे में जानकारी दी. स्पीकर ने अपने स्वागत भाषण में हिमाचल के विकास में योगदान देने के लिए पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह, रामलाल ठाकुर, प्रेम कुमार धूमल के अलावा, जयराम ठाकुर का आभार जताया. साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narender Modi) को भी जन्मदिन की बधाई दी.

इससे पहले राष्ट्रपति कड़ी सुरक्षा के बीच ठीक 11 बजे विधानसभा पहुंचे. उनके साथ उनकी पत्नी और बेटी भी साथ रही. स्पीकर के अलावा, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ सीएम जयराम ठाकुर, राज्यपाल राजेंद्र आर्लेकर और नेता विपक्ष मुकेश अग्निहोत्री को मंच पर जगह दी गई है.

क्या बोले सीएम और नेता विपक्ष

स्पीकर के बाद नेता मुकेश अग्निहोत्री ने राष्ट्रपति का यहां शिमला पहुंचने पर आभार जताया गया. उन्होंने बताया कि हिमाचल विधानसभा के भवन में ही देश की महिलाओं को मताधिकार देने का प्रस्ताव पारित हुआ था. इस दौरान उन्होंने हिमाचल के स्वर्णिम सफर का बखान किया और प्रदेश के निर्माण की जानकारी दी. इस दौरान उन्होंने हिमाचल रजिमेंट के गठन की भी राष्ट्रपति से मांग की. साथ ही कहा कि हिमाचल में एयर सेवाओँ और रेललाइन सेवा का भी विस्तार मुद्दा रखा. सत्र के दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने भी सत्र को संबोधित किया और हिमाचल के पिछले पचास साल के सफर का जिक्र किया. साथ सदन में यह जानकारी दी कि कैसे हिमाचल में विकास का यह सफर तय किया. सीएम ने पूर्व पीएम अटल बिहारी बाजपेई को भी याद किया था.

क्या बोले महामहिम

करीब पौने 12 बजे राष्ट्रपति ने अपना भाषण शुरू किया. अपने भाषण में राष्ट्रपति ने इस दौरान पहाड़ी गांधी कांशी राम के अलावा, देश के पहले वोटर कल्पा के श्याम शरण नेगी को भी याद किया. साथ ही जिस भी शख्स ने हिमाचल के विकास के योगदान दिया, सबका आभार किया. राष्ट्रपति ने कहा कि वह हिमाचल के पहले सीएम यशवंत सिंह परमार, रामलाल ठाकुर, प्रेम कुमार धूमल के अलावा, वीरभद्र सिंह के योगदान को याद किया. राष्ट्रपति ने कहा कि हिमाचल वीरभूमि है और यहां 1 लाख 20 हजार पूर्व सैनिक हैं. उन्होंने कारगिल हीरो विक्रम बत्ता, सौरव कालिया समेत कई वीर सैनिकों को याद किया. राष्ट्रपति ने हिमाचल में हाल ही में मॉनसून सत्र में जान गंवाने लोगों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की. साथ ही उन्होंने हिमाचल के कोरोना वॉरियर्स को भी सलाम किया. बता दें कि महामहिम शिमला में 4 दिन तक ठहरेंगे और 19 सितंबर को दिल्ली लौटेंगे. कोविंद ने अपने भाषण में अटल टनल का भी जिक्र किया. साथ ही उन्होंने कहा कि वह पहली बार साल 1974 में हिमाचल आए थे. राष्ट्रपति ने करीब 15 मिनट तक विशेष सत्र को संबोधित किया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज