लाइव टीवी

देवभूमि क्षेत्रीय का सचिवालय के बाहर प्रदर्शन, पुलिस कर्मियों से धक्का-मुक्की

Reshma Kashyap | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 10, 2019, 6:17 PM IST
देवभूमि क्षेत्रीय का सचिवालय के बाहर प्रदर्शन, पुलिस कर्मियों से धक्का-मुक्की
शिमला प्रदर्शन करते हुए लोग.

प्रदर्शन करने को लेकर छोटा शिमला थाना में संगठन के लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर दी गई है. धारा-144 तोड़ने के चलते मामला दर्ज किया गया है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल की राजधानी शिमला (Shimla)में जेल भरो आंदोलन के तहत देवभूमि क्षेत्रीय संगठन ने प्रदर्शन किया और ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) के साथ धक्का-मुक्की की. केन्द्र सरकार के दबाव में सर्वोच्च न्यायालय ने बिना जांच के एट्रोसिटी एक्ट को लागू करने और आरक्षण (Reservation) के विरोध में संगठन ने प्रदेश सचिवालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया और गिरफ्तारियां दी.

यह मांग रखी
संगठन के अध्यक्ष रुमित सिंह ठाकुर ने बताया कि देश मे जाति के आधार पर आरक्षण की बजाय आर्थिक आधार पर आरक्षण हो, क्योंकि जातिगत आधार पर आरक्षण से जरूरतमंदों को कुछ नहीं मिल रहा है, जबकि सम्पन्न लोग ही इसका लाभ उठा रहे हैं. उन्होंने कहा कि एससी-एसटी एक्ट में जो प्रावधान किए हैं उनके तहत यदि कोई व्यक्ति झूठा मुकदमा भी दे देता है तो 24 घंटे के अन्दर गिरफ़्तारी जरूरी हो जाती है. ऐसे में इस एक्ट के तहत 85 फीसदी मामले झूठे बनाएं जाते हैं, जिसमें छह माह तक कैद हो जाती है. सरकार को चाहिए कि इस एक्ट में संशोधन किया जाए, ताकि झूठे मुक़दमे करने वालों के ख़िलाफ़ भी कार्रवाई हो सके.

थाने में केस दर्ज

प्रदर्शन करने को लेकर छोटा शिमला थाना में संगठन के लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर दी गई है. धारा-144 तोड़ने के चलते मामला दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें:हिमाचल: नाबालिग से रेस्टोरेंट में गैंगरेप, पार्क में लहुलुहान मिली किशोरी

हिमाचल उपचुनाव: फिर प्रचार की कमान संभालेंगे CM जयराम ठाकुर, बोले-मिलेगी जीत
Loading...

पालमपुर से चंबा जा रही HRTC बस हादसे का शिकार, 5 घायल

पूर्व CM वीरभद्र सिंह PGI से डिस्चार्ज, सरकारी हेलिकॉप्टर में लाए गए शिमला

VIDEO: नालागढ़ के महादेव पुल के पास सड़क पर आया अजगर, लगा जाम

VIDEO: गोविंदसागर में कूदी युवती, युवक से बोली-तूने जो गलत करना था, वो कर लिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 5:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...