लाइव टीवी

हिमाचल उपचुनाव: नहीं टूट पाया 2017 का रिकॉर्ड, 69 फीसदी मतदान

News18 Himachal Pradesh
Updated: October 22, 2019, 9:11 AM IST
हिमाचल उपचुनाव: नहीं टूट पाया 2017 का रिकॉर्ड, 69 फीसदी मतदान
धर्मशाला में वोट डालने के लिए कतार में लगे लोग.

By-Election in Himachal: 2017 में पच्छाद सीट पर 79.84 फीसदी पोलिंग हुई थी और धर्मशाला में 74.55 फीसदी लोगों ने अपने मत का प्रयोग किया था.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में विधानसभा (Himachal Bye Election) की दो सीटों पर उपचुनाव के लिए वोटिंग खत्म हो गई है. हालांकि, इस बार दोनों सीटों पर बीते 2017 विधानसभा में वोट प्रतिशत के मुकाबले कम मतदान हुआ है. 2017 में पच्छाद सीट पर 79.84 फीसदी पोलिंग हुई थी और धर्मशाला में 74.55 फीसदी लोगों ने अपने मत का प्रयोग किया था.

सूबे की धर्मशाला (Dharamshala Assembly seat) और पच्छाद (Pachhad Assembly Seat) सीटों पर सुबह आठ बजे वोटिंग शुरू हुई थी जो शाम छह बजे तक चली. चुनाव आयोग के मुताबिक, शाम 5 बजे तक पच्छाद और धर्मशाला सीट पर क्रमश: 71.64% और 64.63 फीसदी लोगों ने वोट डाला है. यानी हिमाचल में 69 फीसदी लोगों ने मतदान किया है. यह जानकारी मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार ने दी. उन्होंने बताया कि धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र में 65.38 तथा पच्छाद में 72.85 प्रतिषत मतदान दर्ज किया गया. उन्होंने कहा कि दोनों ही क्षेत्रों में मतदान शांतिपूर्ण रहा और कोई अप्रिय घटना नहीं हुई।

शांतिपूर्ण तरीके से मतदान
हिमाचल में दोनों सीटों पर शांतिपूर्ण तरीके से मतदान हुआ. कहीं से किसी प्रकार की गड़बड़ी और हिंसा की खबर नहीं मिली. हालांकि, पच्छाद में कांग्रेस पदाधिकारियों ने आरोप लगाया है कि पोलिंग बूथ-84 गडासर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने डमी मशीन रखी हुई थी. इससे लोग गुमराह हो रहे थे. इसके अलावा, पच्छाद में रोती हुई महिला का वीडियो वायरल हुआ और महिला रोते हुए कह रही थी कि उसे भाजपा कार्यकताओं ने थप्पड़ मारने की धमकी दी है. 24 अक्टूबर को दोनों सीटों का चुनावी परिणाम आएगा.

नेहरिया और गंगूराम ने डाला वोट
इससे पहले, सोमवार सुबह धर्मशाला में भाजपा प्रत्याशी विशाल नैहरिया ने सिद्धपुर पोलिंग बूथ पर मतदान किया है. पच्छाद सीट से कांग्रेस प्रत्याशी गंगूराम मुसाफिर ने परिवार सहित डीलमन पंचायत घर में वोट डाला. पच्छाद से भाजपा प्रत्याशी रीना कश्यप ने भी वोट डाला है. धर्मशाला से कांग्रेस प्रत्याशी विजय इंद्र सिंह ने भी अपने मत का प्रयोग किया. वहीं, सांसद किशन कपूर और सुरेश कश्यप ने क्रमश: धर्मशाला और पच्छाद में वोट डाला है.

इसलिए खाली हुई थी सीटें
Loading...

हिमाचल प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दौरान इन दोनों सीटों के विधायक सांसद चुने गए थे. इसके बाद दोनों सीटें खाली हो गई थीं. धर्मशाला से भाजपा के किशन कपूर कांगड़ा लोकसभा सीट से जीतकर संसद पहुंचे थे. वहीं, शिमला संसदीय सीट से पच्छाद से भाजपा विधायक सुरेश कश्यप जीते और यह सीट खाली हुई थी. दोनों सीटें भाजपा के पास थी.

कुल 1,56,624 मतदाता थे
धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र में 82,137, जबकि पच्छाद में 74487 मतदाता थे. धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र में कुल 82137 मतदाता हैं, जिनमें 40157 महिला तथा 41980 पुरुष हैं. वहीं, पच्छाद विधानसभा क्षेत्र में कुल 74487 मतदाताओं में से 36189 महिलाएं और 38298 पुरुष मतदाता हैं.  इनमें से 69 फीसदी ने वोट डाले हैं.

ये भी पढ़ें: धर्मशाला सीट: कुछ बूथों पर सुविधाओं का अभाव, मोबाइल की रोशनी से डाले वोट

धर्मशाला सीट: भाजपा का रहा है दबदबा, इस बार मुकाबला रोचक

पच्छाद सीट: कांग्रेस का परांपरागत गढ़, इस बार त्रिकोणीय मुकाबला!

VIDEO: पूरी तरह स्वस्थ हुए पूर्व CM वीरभद्र सिंह-बोले-जल्द सबके बीच आऊंगा

धर्मशाला सीट: वोटिंग के बाद बोले कांग्रेस प्रत्याशी विजय-जनहित में करेंगे काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 12:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...