• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल में भारी बारिश: अब तक 9 लोगों की मौत, मां-बेटे, मैनेजर सहित 7 लापता

हिमाचल में भारी बारिश: अब तक 9 लोगों की मौत, मां-बेटे, मैनेजर सहित 7 लापता

हिमाचल में भारी बारिश से तबाही हुई है. अब तक नौ लोगों की जान गई है.

हिमाचल में भारी बारिश से तबाही हुई है. अब तक नौ लोगों की जान गई है.

Rain in Himachal: मंगलवार रात से बुधवार शाम तक सबसे ज्यादा बारिश धर्मशाला में 122 एमएम और सोलन जिले के नालागढ़ में 106 मिलीमीटर रिकॉर्ड हुई. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 29 और 30 जुलाई को भी भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

  • Share this:

    शिमला. हिमाचल प्रदेश में दो दिन रेड अलर्ट (Red Alert) के बीच बारिश (Rain) ने जमकर तबाही मचाही है. अब तक 9 लोगों की मौत और 7 लोग लापता हैं. लाहौल में उदयपुर में 7 लोगों की फ्लैश फ्लड में बहने से मौत हुई है, जबकि चंबा (Chamba) में दो मौतें हुई हैं. लाहौल में अब भी तीन लोग लापता हैं और कुल्लू में मां बेटे, युवती और एक शख्स भी ब्रह्म गंगा में बह गया है. मंगलवार शाम से बुधवार रात से लकेर गुरुवार सुबह तक बारिश जारी है. गुरुवार सुबह भी बादल छाए हुए हैं और मौसम खराब बना हुआ हैं.

    मंगलवार देर शाम लाहौल के तोंजिंग नाला, बुधवार सुबह छह बजे कुल्लू के मणिकर्ण के ब्रह्मगंगा नाला की पहाड़ी पर और सुबह साढ़े 6 बजे किन्नौर की रक्षम पंचायत में भारी बारिश हुई है. यहां पर मानों बादल फटा है. लाहौल में आईटीबीपी, एनडीआरएफ और पुलिस ने अब तक सात लोगों के शव बरामद कर लिए हैं. लापता तीन लोगों के लिए सर्च अभियान जारी है. पांच मृतकों में मंडी और जम्मू कश्मीर के लोग शामिल हैं.

    बारिश से लाहौल स्पीति में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है.

    कुल्लू में चार लोग लापता
    कुल्लू में कसोल के आगे ब्रह्मगंगा नाले में बाढ़ आने से मां पूनम (25) बेटा निकुंज (4) और ब्रह्मगंगा कैंपिंग साइट पर काम करने वाली गाजियाबाद की लड़की वनिता (25) सहित चार लोग बह गए हैं. इनकी तलाश की जा रही है. चंबा में भरमौर-पठानकोट एनएच पर भूस्खलन हटाने में जुटी जेसीबी का हेल्पर बह गया था और अब सुनील कुमार का शव बरामद कर लिया गया है.

    क्या कहते हैं सीएम
    मंडी जिला के करसोग में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि सभी जिला उपायुक्तों को मौसम की चेतावनी के साथ ही हिदायत जारी कर दी गई है. स्थानीय प्रशासन व स्थानीय लोग आपसी सहयोग से राहत एवं बचाव कार्य में जुटे हुए हैं. भारी बारिश के कारण हिमाचल प्रदेश में काफी ज्यादा नुकसान हुआ है. अगले तीन दिन भी मौसम खराब बने रहने की चेतावनी जारी की गई है, जिसके बाद सभी जिला प्रशासनिक अधिकारियों को अलर्ट रहने को कहा गया है. लोक निर्माण विभाग को सड़क बहाली के लिए पूरी ताकत झोंकने के लिए कहा गया है.

    कुल्लू में ब्रह्म गंगा में बाढ़ के बाद के हालात.

    प्रदेश में जीवन थमा
    प्रदेश में 5 छोटे-बड़े पुल और 31 मकान क्षतिग्रस्त और 9 ढह गए. 387 छोटी-बड़ी सड़कें बंद हैं. शिमला-कालका रेल ट्रैक पर पेड़ गिरने से रेल सेवा बाधित हो गई. 345 ट्रांसफार्मर बंद हैं, जिससे कई क्षेत्रों में बिजली गुल है. लाहौल के तोंजिंग नाले में बाढ़ के चलते लापता दस लोगों में से सात के शव बरामद कर लिए हैं. तीन लोग रेस्क्यू किए हैं. इनमें एक कुल्लू अस्पताल में भर्ती है. आर्मी जवान मोहन सिंह (38) पुत्र लाल चंद, निवासी छातिंग, उदयपुर को रेस्क्यू किया गया। उसे केलांग अस्पताल ले जाया गया. मंडी जिले की ग्राम पंचायत टकोली के शेर सिंह, रूम सिंह, मेहर चंद और नीरत राम के शव निकाले गए हैं.

    मंडी में औट के पास फोरलेन में लगी कंपनी की मशीनरी को काफी नुकसान पहुंचा है.

    धर्मशाला में सबसे ज्यादा 122 मिमी बारिश, ऑरेंज अलर्ट
    मंगलवार रात से बुधवार शाम तक सबसे ज्यादा बारिश धर्मशाला में 122 एमएम और सोलन जिले के नालागढ़ में 106 मिलीमीटर रिकॉर्ड हुई. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने 29 और 30 जुलाई को भी भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. तीन अगस्त तक बारिश का पूर्वानुमान है. ऊना में 119, नालागढ में 106, शिमला में 92, कांगड़ा में 91, मंडी में 65, नाहन में 61, सोलन में 54 और कसौली में 33 एमएम पानी बरसा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज