बारिश ने बढ़ाई शिमला जल निगम की मुश्किलें, कम हुई पानी की सप्लाई

गौरतलब है कि शिमला शहर को जलापूर्ति करने वाली पेयजल योजनाओं से बुधवार को कुल 46.21 एमएलडी पानी मिला है, जिसे निर्धारित शेड्य़ूल के तहत आबंटित किया गया है.

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 27, 2019, 12:04 PM IST
बारिश ने बढ़ाई शिमला जल निगम की मुश्किलें, कम हुई पानी की सप्लाई
शिमला में पानी की समस्या. (सांकेतिक तस्वीर.)
Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 27, 2019, 12:04 PM IST
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला को जलापूर्ति करने वाली गिरी पेयजल योजना में भारी बारिश के बाद गाद जम गई है. इससे बुधवार को गिरी में पर्याप्त पानी की आपूर्ति नहीं हो सकी है. अधिक मात्रा में सिल्ट होने के कारण गिरी में सिर्फ दो पंपों से ही पानी की लिफ्टिंग हो सकी है, जबकि 2 पंप पूरी बंद से पड़े हुए हैं.

कम पानी की सप्लाई
मंगलवार रात से ही गिरी में पंपिंग बंद होने के कारण से शिमला शहर को करीबन 8 से 10 एमएलडी कम पानी मिला है, जिससे शिमला के कई क्षेत्रों में पानी की सप्लाई प्रभावित हुई है. गिरी पेयजल परियोजना से शहर को केवल 12 एमएलडी पानी मिल सका है. हांलाकि, बुधवार दिनभर गिरी में गाद साफ करने का काम चलता रहा है, लेकिन गाद अधिक होने के कारण दिनभर पंपिंग नहीं हो सकी है.

अधिकारी पहुंचे हैं गिरी

शिमला जल प्रंबंधन कंपनी के अधिकारियों ने बुधवार को गिरी पेयजल योजना का विजिट कर पंपिग और गाद साफ करने के दिशा निर्देश दिए है. कंपनी के एजीएम राजेश कश्यप ने कहा कि गिरी में अधिक मात्रा में गाद आने के कारण से पर्याप्त पंपिग नहीं हो पाई है. गाद बुहत अधिक है, ऐसे में पानी बहुत अधिक मटमैला है जिसके कारण पानी को नहीं उठाया जा रहा है. गाद का साफ की जा रही है. हांलाकि, कंपनी का दावा है कि शहर में निर्धारित शेड्यूल के तहत पानी की सप्लाई दी गई है.

बुधवार को इतना पानी मिला
गौरतलब है कि शिमला शहर को जलापूर्ति करने वाली पेयजल योजनाओं से बुधवार को कुल 46.21 एमएलडी पानी मिला है, जिसे निर्धारित शेड्य़ूल के तहत आबंटित किया गया है. शहर को विभिन्न पेयजल परियोजनायों नौटी खड्ड् पेयजल परियोजना से 05.81, गुम्मा से 24.21, गिरी परियोजना से 12.05, चुरट परियोजना से 3.36, सियोग परियोजना से 00.18, चैयड़ से 02.16, कोटी बरांडी से 04.21 एमएलडी पानी मिला है.
Loading...

ये भी पढ़ें: हिमाचल के कुल्लू में फिर हादसा, 3 युवकों की मौत

स्कूल में छात्रा से रेप: आरोपी टीचर बर्खास्त, बदलेगा स्टाफ!

कुल्लू के ‘बेबस’ बच्चे: बस में नहीं रोकी तो रोड पर लगाया जाम

हिमाचल में 1 लाख परिवार बीपीएल श्रेणी से होंगे बाहर

एग्जाम से पहले भाई और बहन ने खाए गोलगप्पे, पहुंचे अस्पताल

कांगड़ा में आसमान से गिरा 'बम', धमाके के बाद भड़क उठी आग
First published: June 27, 2019, 12:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...