होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

हिमाचल में बारिश का कहर, अब शिमला से चंडीगढ़ के बीच शमलेच बाईपास धंसा, दो गाड़ियां आई चपेट में

हिमाचल में बारिश का कहर, अब शिमला से चंडीगढ़ के बीच शमलेच बाईपास धंसा, दो गाड़ियां आई चपेट में

हिमाचल में बारिश का कहर, अब शिमला से चंडीगढ़ के बीच शमलेच बाईपास धंसा, दो गाड़ियां आई चपेट में

हिमाचल में बारिश का कहर, अब शिमला से चंडीगढ़ के बीच शमलेच बाईपास धंसा, दो गाड़ियां आई चपेट में

प्रशासन मौके पर है और लगातार ट्रैफिक को डायवर्ट किया जा रहा है. पुलिस ने लोगों से अपील की है कि शिमला से चंडीगढ़ की तरफ जा रहे यात्री शमलेच बाईपास के पास फ्लाईओवर के नीचे से जा सकते हैं.

शिमला. हिमाचल में बारिश का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है. मंडी में भारी तबाही के बाद अब शिमला व सोलन से चंडीगढ़ की तरफ जाने वाले शमलेच बाईपास फ्लाईओवर सड़क एक तरफ से धंस गई. इस दौरान रास्ता पूरी तरह से बंद हो गया. फ्लाईओवर के एक तरफ से गिर जाने के दौरान दो गाड़ियां इसकी चपेट में आ गईं. यहां पर एक कार खड़ी थी और दूसरी वहां से गुजर रही थी. हादसे में कार सवार एक व्यक्ति को हल्की चोट आई हैं. सड़क के धंसने के बाद प्रशासन की टीम मौके पर है और सड़क को सही करने का काम किया जा रहा है.

वहीं पुलिस ने लोगों से अपील की है कि जो भी यात्री शिमला और सोलन से चंडीगढ़ की तरफ जाना चाहते हैं वे शमलेच बाईपास के पास फ्लाईओवर के नीचे से जाना सुनिश्चित करें. इसी के साथ पुलिस ने कहा है कि लोग यात्रा के लिए सोलन बड़ाेग बाईपास रोड का भी उपयोग कर सकते हैं.

दूसरी तरफ जोगिंदर नगर के समीप नागचला में एक बड़ी चट्टान मुख्य सड़क पर आ जाने से राष्ट्रीय उच्च मार्ग जोगिंदर नगर-मंडी अवरुद्ध हो गया है. चट्टान के भारी भरकम होने के चलते इसे तुरंत हटाना मुश्किल है. इसलिए यातायात को बाया एप्रोच रोड हराबाग होकर डायवर्ट किया गया है. राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर यातायात को जल्द बहाल करने की प्रशासन द्वारा हरसंभव प्रयास किए जाएंगे. फिलहाल मंडी की ओर से आने जाने वाले वाहन वैकल्पिक मार्ग अप्रोच रोड -हरबाग का इस्तेमाल करें.

वहीं बीती रात से लगातार मंडी में हो रही बारिश से 84 सड़कें बंद हो गई हैं, वहीं 529 ट्रांसफॉर्मर या तो खराब हो गए हैं या फिर जल गए हैं जिससे बड़े इलाके में बिजली नहीं है. वहीं बारिश के चलते चंडीगढ़-मनाली हाईवे भी गुरुवार को बाधित रहा, हालांकि बाद में उसे बहाल कर दिया गया.

भारी बारिश के कारण ब्यास नदी के जलस्तर में भारी बढ़ोतरी हो गई है. ऐसे में पंडोह डैम से भी भारी मात्रा में पानी छोड़ दिया गया है. डैम के सभी गेट खोल दिए गए हैं और बिजली उत्पादन को बंद कर दिया गया है.

यह ख़बर बिल्कुल अभी आई है और इसे सबसे पहले आप News18Hindi पर पढ़ रहे हैं. जैसे-जैसे जानकारी मिल रही है, हम इसे अपडेट कर रहे हैं. ज्यादा बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए आप इस खबर को रीफ्रेश करते रहें, ताकि सभी अपडेट आपको तुरंत मिल सकें. आप हमारे साथ बने रहिए और पाइए हर सही ख़बर, सबसे पहले सिर्फ Hindi.News18.com पर…

Tags: Himachal news, Shimla News

अगली ख़बर