शिमला में पेयजल संकट बरकरार, कोटी-बरांडी में चल रहा मरम्मत कार्य

Gulwant Thakur | ETV Haryana/HP
Updated: August 12, 2017, 7:26 PM IST
शिमला में पेयजल संकट बरकरार, कोटी-बरांडी में चल रहा मरम्मत कार्य
वॉटर लीकेज की समस्या के चलते शिमला में पानी का संकट
Gulwant Thakur | ETV Haryana/HP
Updated: August 12, 2017, 7:26 PM IST
हिमाचल प्रदेश में राजधानी शिमला के एक पेयजल स्रोत कोटी-बरांडी से इन दिनों पानी की सप्लाई बंद है. दरअसल, कोटी-बरांडी पाइपलाइन की सप्लाई बंद है और इसकी वजह इस लाइन की पाइपों में हो रही लीकेज है.

पानी की लीकेज को ठीक करने के लिए अब नगर निगम यहां की पाइप लाइन को ही बदलने में लगा हुआ है. पानी की पाइपें बदलने से शहर को पानी की सप्लाई में बढ़ोतरी होगी. इस पानी की सप्लाई बंद होने से छोटा शिमला, खलीणी, कसुम्पटी, न्यू शिमला आदि इलाकों में पानी की सप्लाई प्रभावित हुई है और इन इलाकों में संजौली से पानी की सप्लाई की जा रही है.

नगर निगम के अधीक्षण अभियंता धर्मेंद्र गिल ने कहा कि कोटी-बरांडी पेयजल योजना में लीकेज के कारण पानी बर्बाद हो रहा है. उन्होंने कहा कि इस लीकेज को रोकने के लिए पाइप लाइन के कुछ हिस्से में पाइप बदलने की जरूरत है और इसको बदलने की प्रक्रिया चल रही है.

उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि कुछ दिनों में ही सारा काम संपन्न हो जाएगा. उनका कहना था कि इस पाइप लाइन की लीकेज दूर होने से पानी की आपूर्ति की मात्रा में बढ़ोतरी हो जाएगी और यह 5 एमएलडी तक पहुंच सकती है.
First published: August 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर