VIDEO: रोहड़ू में PWD ने इतनी पक्की सड़क बनाई कि हाथों से उखड़ रही टारिंग

पांच साल से सड़क का निर्माण रुका हुआ था. अब जब विभाग ने इसे पक्का करवाया तो गुणवत्ता पर सवाल उठ रहे हैं. मामला हिमाचल के शिमला के रोहड़ू का है. यहां तारकोल से बनाई गई पक्की सड़क को हाथों से उखाड़ा जा सकता है. घणासीधार से घासनी-कड़ीवन साढ़े 10 किलोमीटर सड़क को बनाने का काम 2014 में शुरू हुआ था. बजट 5 करोड़ 55 लाख 63 हजार था. 5 साल बीत गए लेकिन सड़क पूरी नहीं बनी है. इस संपर्क मार्ग से करीब 15 पंचायतों को फायदा होना है. स्थानीय लोगों ने जब सवाल उठाने शुरू किए तो लोक निर्माण विभाग के एक्सईन और जेई सड़क देखने आ गए. लोगों ने घेरा लिया और पूरी स्थिति को दिखाया. वीडियो बनाया और ऑन रिकॉर्ड सारी हात पूछी, ताकि ताकि बाद में मुकर न सकें. स्थानीय लोगों ने मुख्यमंत्री को भी चिट्ठी लिखी है.

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 25, 2019, 1:41 PM IST
Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 25, 2019, 1:41 PM IST
पांच साल से सड़क का निर्माण रुका हुआ था. अब जब विभाग ने इसे पक्का करवाया तो गुणवत्ता पर सवाल उठ रहे हैं. मामला हिमाचल के शिमला के रोहड़ू का है. यहां तारकोल से बनाई गई पक्की सड़क को हाथों से उखाड़ा जा सकता है. घणासीधार से घासनी-कड़ीवन साढ़े 10 किलोमीटर सड़क को बनाने का काम 2014 में शुरू हुआ था. बजट 5 करोड़ 55 लाख 63 हजार था. 5 साल बीत गए लेकिन सड़क पूरी नहीं बनी है. इस संपर्क मार्ग से करीब 15 पंचायतों को फायदा होना है. स्थानीय लोगों ने जब सवाल उठाने शुरू किए तो लोक निर्माण विभाग के एक्सईन और जेई सड़क देखने आ गए. लोगों ने घेरा लिया और पूरी स्थिति को दिखाया. वीडियो बनाया और ऑन रिकॉर्ड सारी हात पूछी, ताकि ताकि बाद में मुकर न सकें. स्थानीय लोगों ने मुख्यमंत्री को भी चिट्ठी लिखी है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...