सुर्खियां: RSS की बैठक में सीएम जयराम, कश्मीरी छात्र रिमांड पर और शिमला MC का बजट

बैठक के बाद सीएम और अन्य पार्टी पदाधिकारियों ने इस संबंध में कुछ भी कहने से मना कर दिया. बैठक के दौरान इतनी गोपनीयता बरती गई कि सुरक्षा अधिकारियों और निजी सचिवों को भी गेट से अंदर नहीं जाने दिया गया.

  • Share this:
राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) ने मंगलवार को प्रांत समन्वय बैठक का आयोजन किया, जिसमें मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, भाजपा के चारों सांसद और पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी पहुंचे. यह गोपनीय बैठक सुबह 11:15 से शाम 5:15 बजे तक कई सत्रों में चली.



बताया जा रहा है कि बैठक में लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति तैयार की गई और पदाधिकारियों को जिम्मेदारियां भी सौंपी गई. प्रांत स्तर की बैठक बिलासपुर में पहली बार आयोजित की गई. इसमें प्रदेश भर से आरएसएस सहित विभिन्न संगठनों के मुख्य लोग मौजूद रहे. सीएम जयराम ठाकुर बैठक के दूसरे सत्र में पहुंचे. बैठक के बाद सीएम और अन्य पार्टी पदाधिकारियों ने इस संबंध में कुछ भी कहने से मना कर दिया. बैठक के दौरान इतनी गोपनीयता बरती गई कि सुरक्षा अधिकारियों और निजी सचिवों को भी गेट से अंदर नहीं जाने दिया गया.



कश्मीरी युवक रिमांड पर

नौणी विश्वविद्यालय से हिरासत में लिए दोनों कश्मीरी छात्रों को पुलिस ने अब गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने इन दोनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 153बी, 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. वहीं नौणी विश्वविद्यालय के तहत दि ऑफ फॉरेस्ट्री एवं हॉर्टिकल्चरल डिपार्टमेंट ने इन दोनों छात्रों को सस्पेंड कर दिया है. पुलिस के अनुसार सोमवार को इन दोनों कश्मीरी छात्रों का पहले क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में मेडिकल करवाया गया. दोपहर बाद इन्हें कोर्ट में पेश किया गया. जहां से दोनों को तीन दिन के रिमांड पर भेज दिया गया है. मामले की पुष्टि पुलिस अधीक्षक सोलन मधुसूदन शर्मा ने की है.
शिमला नगर निगम का बजट



नगर निगम शिमला 21 फरवरी को वित्त वर्ष 2019-20 का बजट पेश करेगा. हर बार की तरह इस बार भी एक साल पूरा होने के बाद मेयर, डिप्टी मेयर नए बजट में लोगों के लिए नई उम्मीदें लेकर आएंगे, आम शहरी यही मान कर चला है. लेकिन हकीकत यह है कि बजट में कुछ घोषणाएं ऐसी होती हैं जो पिछले पांच साल से हर बजट की कॉपी में दिखाई देती हैं लेकिन आज तक वे किसी न किसी औपचारिक्ता के चलते पूरी नहीं हो पाई। महिला मेयर होने के नाते कुसुम सदरेट ने पिछले साल अपने पहले बजट में सबसे पहली घोषणा महिलाओं के लिए की थी. इसमें 50 लाख का प्रावधान किया गया था कि जो महिलाएं गरीब परिवार से हैं और जिनके पास इनकम का कोई सोर्स नहीं उनके लिए नगर निगम स्वरोजगार देगा.



ये भी पढ़ें : पुलवामा आतंकी मुठभेड़ में घायल हुआ हिमाचल का जवान, 3 माह पहले ही हुई है शादी



मंडी में कश्मीरियों के क्वार्टर पर पत्थरबाजी, शीशे टूटे, पंचायत में घाटी के बाशिंदों की एंट्री बैन



VIDEO: लड़की ने शोरूम में चला दी कार, शीशे तोड़कर उड़ती हुई पहुंची सड़क पर



शहीद के गांव में पालकी है मरीजों का ‘सहारा’, पत्नी बोलीं-4 दिन सम्मान, पूरा जीवन अपमान



सुर्खियां: RSS की बैठक में सीएम जयराम, कश्मीरी छात्र रिमांड पर और शिमला MC का बजट



शराब ठेके के विरोध में सड़क पर उतरी महिलाएं, बोली- बच्चे हो रहे है बर्बाद



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज