Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल: दिवाली पर 6 दिन बंद रहेंगे स्कूल और कॉलेज, शिक्षा विभाग ने छुट्टियों का किया ऐलान

हिमाचल: दिवाली पर 6 दिन बंद रहेंगे स्कूल और कॉलेज, शिक्षा विभाग ने छुट्टियों का किया ऐलान

इस संबंध में सभी स्कूल-कॉलेज के प्रिंसिपलों, उप शिक्षा निदेशकों व स्कूल मुख्याध्यापकों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

इस संबंध में सभी स्कूल-कॉलेज के प्रिंसिपलों, उप शिक्षा निदेशकों व स्कूल मुख्याध्यापकों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं. (सांकेतिक फोटो)

पिछले महीने 27 सितंबर से हिमाचल प्रदेश के स्कूल खुले हुए हैं. राज्य सरकार (State Government) ने कैबिनेट की बैठक के दौरान स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला लिया था. विद्यार्थियों और स्कूल के तमाम स्टाफ कोरोना को लेकर जारी एसओपी के तहत स्कूल आ रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) शिक्षा विभाग ने स्कूलों और कॉलेजों में दिवाली की छुट्टियों (Diwali Holidays) का ऐलान कर दिया है. उच्चतर शिक्षा विभाग के आदेश के मुताबिक, एक नवंबर से 6 नवंबर तक प्रदेश के सभी स्कूल और कॉलेज (Schools And Colleges) बंद रहेंगे. इस दौरान निजी स्कूलों और कॉलेजों में भी छुट्टियां रहेंगी. वहीं, इस संबंध में सभी स्कूल-कॉलेज के प्रिंसिपलों, उप शिक्षा निदेशकों व स्कूल मुख्याध्यापकों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं.

    बता दें कि पिछले महीने 27 सितंबर से हिमाचल प्रदेश के स्कूल एक बार से फिर से खुल गए हैं. राज्य सरकार (State Government) ने कैबिनेट की बैठक के दौरान स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला लिया था. प्रदेश में अभी कक्षा 9 से 12 के लिए स्कूल फिर से खुले हैं. जिसमें कक्षा 10 और 12 के छात्रों को सोमवार, मंगलवार और बुधवार को स्कूल आने की अनुमति है. वहीं गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को नौवीं और 11वीं के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुल रहे हैं.

    अन्य गतिविधियों पर भी रोक है
    दरअसल, विद्यार्थियों और स्कूल के तमाम स्टाफ कोरोना को लेकर जारी एसओपी के तहत स्कूल आ रहे हैं. स्कूलों में प्रवेश से पहले परिसर को सैनिटाइज किया जा रहा है. विद्यार्थियों की प्रवेश से पहले थर्मल स्कैनिंग की जा रही है. सभी को मास्क पहनना जरूरी है. विद्यार्थियों के लिए स्कूलों में लंच ब्रेक और आने-जाने का समय कक्षावार अलग-अलग रखा गया है. कक्षाओं में एक बेंच छोड़कर विद्यार्थी बिठाए जा रहे हैं. स्कूल के कमरे की क्षमता अनुसार 50 फीसदी विद्यार्थियों को ही एक साथ बिठाया जा रहे हैं. शेष विद्यार्थियों की क्लास दूसरे कमरे में लगाई जा रही है. प्रार्थना सभा, खेलकूद सहित एकत्र होने वाली अन्य गतिविधियों पर भी रोक है.

    फेस मास्क पहनना अनिवार्य
    उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी स्कूल प्रिंसिपलों को विद्यार्थियों की क्षमता और कमरों की संख्या के अनुसार माइक्रो प्लान बनाने को कहा था.  शिक्षकों और विद्यार्थियों के लिए फेस मास्क पहनना अनिवार्य है. थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही स्कूल परिसरों में प्रवेश दिया जा रहा है.

    Tags: Diwali 2021, Himachal pradesh news, Shimla News

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर