पर्यटन सीजन में शिमला प्रशासन पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार, ये किए इंतजाम
Shimla News in Hindi

पर्यटन सीजन में शिमला प्रशासन पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार, ये किए इंतजाम
शिमला का एक दृश्य

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला पर्यटकों के स्वागत के लिए पूरी तरह से तैयार है. शिमला के डीजी राजेश्वर गोयल ने कहा कि इसबार पर्यटकों के मनोरंजन के लिए भी खास ध्यान रखा जाएगा.

  • Share this:
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला पर्यटकों के स्वागत के लिए पूरी तरह से तैयार है. वर्ष 2018 की गर्मियों में शिमला पानी की कमी से जार-जार रो रहा था. स्थानीय लोगों के अलावो यहां आने वाले पर्यटकों पानी की कमी से बहुत तंग हुए थे. पर्यटकों ने शिमला जाना ही बंद कर दिया था. लेकिन इस बार शिमला जिला प्रशासन का दावा है कि वे यहां पानी की कमी नहीं होने देंगे.

वर्ष 2018 में शिमला को न जाने किस की नजर लग गई थी. लोग सड़कों पर उतरने को मजबूर हो गए थे, क्योंकि शिमला में पानी की किल्लत हो गई थी, लोगों के घरों में पीने को एक बूंद पानी तक नहीं मिल रहा था. वहीं शिमला पहुंचने वाले पर्यटकों को एमआरपी से ज्यादा कीमत पर बोतलबंद पानी खरीद कर पीने को मजबूर होना पड़ रहा था. सैलानियों ने शिमला आना ही बंद कर दिया था.

शिमला के लिए पिछला साल एक बुरे सपने की तरह रहा है, लेकिन इस साल पर्यटकों को किसी भी तरह की कोई समस्या न हो, इसके लिए जिला प्रशासन ने कमर कस ली है. इस साल हुई बर्फबारी और बारिश शिमला के लिए वरदान साबित हुई है. पानी की सप्लाई को इस बार सुचारु रूप से चलाया जाएगा और पर्यटकों को इस बार पानी की समस्या से जुझना नहीं पड़ेगा.



शिमला के डीजी राजेश्वर गोयल ने कहा कि शिमला में पर्यटकों को पार्किंग और ट्रैफिक की समस्या से दो—चार होना पड़ता है. यह समस्या पुरानी है, लेकिन इस बार जिला प्रशासन रोड कंडीशन, ट्रैफिक और पार्किंग की समस्याओं को दूर करने का पूरा प्रयास करेगा. पर्यटक के ठहरने और घूमने की जगहों पर पानी की कमी नहीं आएगी. इस बारे में होटल एसोसिएशन और संबंधित विभाग से बैठकें की जाएगी.
राजेश्वर गोयल ने कहा कि इसबार पर्यटकों के मनोरंजन के लिए भी खास ध्यान रखा जाएगा. ऐतिहासिक रिज मैदान पर पर्यटकों की आमद सबसे ज्यादा होती है. ऐसे में जिला प्रशासन रिज और मॉल के आस पास जगह चयनित करेगा, जहां विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. इन कार्यक्रमों में हिमाचली संस्कृति की झलक, हिमाचली आर्ट एंड क्राफ्ट परंपरिक भोजन, लाइव प्रोग्राम और वीकेंड पर लोकसंगीत का आयोजन करने पर विचार किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: सिद्धू का नाम लिए बगैर सीएम जयराम ने कहा-राहुल गांधी को पप्पू नाम तो उन्होंने दिया है

 अब BJP अहंकारियों व मात्र चाटुकारियों की पार्टी बन गई है: सुरेश चंदेल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading