फर्जी डिग्री मामला: 200 डिग्रियां मिली फर्जी, शिमला की APG यूनिवर्सिटी के खिलाफ FIR दर्ज
Shimla News in Hindi

फर्जी डिग्री मामला: 200 डिग्रियां मिली फर्जी, शिमला की APG यूनिवर्सिटी के खिलाफ FIR दर्ज
शिमला की एपीजी यूनिवर्सिटी.

बता दें कि सोलन की मानव भारती यूनिवर्सिटी और शिमला की एपीजी यूनिवर्सिटी पर पांच लाख से ज्यादा फर्जी डिग्रियां बनाने और बांटने के आरोप हैं. आयोग ने इन विवि में इस सत्र के लिए एडमिशन पर रोक लगाई है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में फर्जी डिग्री मामले में News-18 की खबर का बड़ा असर हुआ है. इस मामले में फंसी APG यूनिवर्सिटी के खिलाफ FIR दर्ज हो गई है. एपीजी विवि के खिलाफ सीआईडी (CID) पुलिस स्टेशन भराड़ी में FIR दर्ज हुई है. IPC की धार-465, 467, 471, 120B के तहत मामला दर्ज किया है. इसका खुलासा हाईकोर्ट (High court) में एक याचिका की सुनवाई के दौरान सरकार के जबाव से हुआ है. याचिका में सरकार से भी जबाव मांगा गया था.

सरकार की ओर से जबाव दिया
बता दें कि रेगुलेटरी कमिशन ने एडमिशन ना करने को लेकर जो आदेश दिए थे, उन आदेशों को भी विवि प्रशासन ने हाईकोर्ट में चुनौती दी थी. एडवोकेट जनरल ने सरकार की ओर से जबाव दिया है. एफआईआर में विस्तार मामले के बारे में बताया गया है.

200 से ज्यादा फर्जी डिग्री पाई गई
एसआईटी की शुरूआती जांच में पता चला है कि 200 से ज्यादा फर्जी डिग्री पाई गई हैं. इन डिग्रियों का कोई रिकार्ड नहीं मिला, जिसके चलते इनके फर्जी होने का पता चल रहा है. जानकारी ये भी मिली है कि जांच टीम को पूरा रिकार्ड नहीं सौंपा गया. कुछ ही सालों का रिकार्ड पेश किया गया, जिसमें इन डिग्रियों का रिकार्ड शामिल नहीं है. ये भी पता चला है कि एपीजी प्रशासन ने रिकार्ड तक जला दिया है. जब इस बारे में पूछताछ की गई तो प्रशासन कोई संतोषजनक जबाव नहीं दे पाया. इस मामले की जांच जारी है.



दो यूनिवर्सिटी पर आरोप
बता दें कि सोलन की मानव भारती यूनिवर्सिटी और शिमला की एपीजी यूनिवर्सिटी पर पांच लाख से ज्यादा फर्जी डिग्रियां बनाने और बांटने के आरोप हैं. आयोग ने इन विवि में इस सत्र के लिए एडमिशन पर रोक लगाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading