कोरोना मरीज सुसाइड केस: शिमला के DDU अस्पताल के MS पर गिरी गाज, हटाए गए

शिमला का डीडीयू अस्पताल.
शिमला का डीडीयू अस्पताल.

Shimla DDU Suicide Case: हिमाचल प्रदेश (Himachal) में इस तरह का यह पहला मामला है. इससे पहले कोरोना संक्रमित के आत्महत्या (Suicide) करने का कोई मामला सामने नहीं आया था. सीएम ने भी हादसे की रिपोर्ट मांगी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2020, 9:06 AM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Shimla) की राजधानी शिमला (Shimla) के डेडिकेटिड कोविड केयर सेंटर और दीन दयाल उपाध्याय (डीडीयू) रिपन अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव महिला द्वारा आत्महत्या (Suicide) के बाद कार्यकारी एमएस डॉ. लोकेंद्र शर्मा को हटा दिया गया है. उन पर गाज गिरी है. उनसे कार्यकारी एमएस (MS) का चार्ज स्वास्थ्य विभाग ने वापस ले लिया है. वह अब पहले की तरह ओपीडी में सेवाएं देंगे. हमीरपुर में तैनात डॉक्टर रमेश चौहान डीडीयू (DDU) के नए एमएस होंगे. कार्यकारी सीएमओ शिमला डॉक्टर सुरेखा को सीएमओ बना दिया गया है. दरसअल, प्रदेश में सरकार ने गुरुवार को 15 बीएमओ को पदोन्नत किया है.

क्या है मामला
दरअसल, शिमला के चौपाल की 54 साल की महिला शिमला के डीडीयू अस्पताल में भर्ती थी. 17 सितंबर से वह डीडीयू में भर्ती थी. चौपाल से इसे कोरोना की पुष्टि होने के बाद यहां इलाज के लिए लाया गया था. यह महिला चिकित्सकों की निगरानी में थी. महिला चौपाल के चाड़च गांव से संबंध रखती थी. सोमवार रात 12 बजकर पांच मिनट पर महिला ने वार्ड की गैलरी से फंदा लगाया और जान दे दी थी. इसके बाद कोविड केयर सेंटर में व्यवस्थाओं पर सवाल उठे थे. क्योंकि आरोप है कि महिला को दवाएं और दूसरी सुविधाएं नहीं मिली थी.

मजिस्ट्रियल जांच के आदेश
डीसी शिमला ने इस संबंध में जांच के आदेश दिए हैं. दस दिन में रिपोर्ट मांगी गई है. हिमाचल प्रदेश (Himachal) में इस तरह का यह पहला मामला है. इससे पहले कोरोना संक्रमित के आत्महत्या (Suicide) करने का कोई मामला सामने नहीं आया था. सीएम ने भी हादसे की रिपोर्ट मांगी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज