Home /News /himachal-pradesh /

shimla factory worker won 1 crore rupees in dream 11 app on ipl match hpvk

Dream-11 Jackpot: डेविड मिलर के वो 3 छक्के, जिनकी वजह से शिमला का रमेश जीता 1.17 करोड़ रुपये

बल्लेबाज डेविड मिलर के 3 छक्कों से शिमला के दुर्गम क्षेत्र कुपवी के रमेश की किस्मत बदल गई.

बल्लेबाज डेविड मिलर के 3 छक्कों से शिमला के दुर्गम क्षेत्र कुपवी के रमेश की किस्मत बदल गई.

Dream-11: सिरमौर के पांवटा साहिब की एक फ़ार्मा फैक्ट्री में काम करने वाले रमेश चंद क़रीब 4 साल से ड्रीम इलेवन पर अपनी टीम बना रहे हैं. वो ड्रीम इलेवन पर अब तक क़रीब 500 रुपए हार चुके हैं, जबकि अधिकांश मैच में उनकी एंट्री वापिस मिल जाती थी.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. कहते हैं जब देने वाला देता है तो छप्पड़ फाड़ कर देता है. कुछ ऐसा ही हुआ रमेश चंद के साथ. रमेश का ड्रीम 11 ऐप में जैकपॉट लगा है. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में गुजरात टाइटंस के मुकाबले में रमेश ने पैसे लगाए थे और वह 1.17 करोड़ जीता है. गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाला रमेश सिरमौर में एक दवा कंपनी में काम करता है.

आईपीएल के इस मुकाबले के दौरान विस्फोटक बल्लेबाज डेविड मिलर के 3 छक्कों ने शिमला के दुर्गम क्षेत्र कुपवी के रमेश की किस्मत बदल गई. सीजन के पहले सेमीफाइनल मुकाबले में कुपवी के डाक गांव के रमेश ने मात्र 49 रुपए लगाकर 1 करोड़ 17 लाख 50 हजार रुपए की नकद राशि जीत ली.

रमेश चंद ने बताया कि ड्रीम-11 पर उन्होंने बटलर को कप्तान और डेविड मिलर को उप कप्तान बनाया. मैच के शुरू से आखिर की तीन बॉल पहले तक वह एक बार भी टॉप पर नहीं आए. मिलर ने जैसे ही राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ आखिरी ओवर में तीन छक्के जड़े तो उनकी टॉप पोजिशन आई. हालांकि, टॉप पोजिशन पर दो लोग थे और दूसरे नंबर पर अंकों की शर्त की वजह से कोई नहीं था, इसलिए दूसरे पुरस्कार की राशि पहले में ही जोड़ दी गई और टॉप-2 में दोनों दावेदारों को बराबर राशि बांट दी गई.

सिरमौर के पांवटा साहिब की एक फ़ार्मा फैक्ट्री में काम करने वाले रमेश चंद क़रीब 4 साल से ड्रीम इलेवन पर अपनी टीम बना रहे हैं. वो ड्रीम इलेवन पर अब तक क़रीब 500 रुपए हार चुके हैं, जबकि अधिकांश मैच में उनकी एंट्री वापिस मिल जाती थी. मगर मंगलवार को ड्रीम इलेवन पर बनाई गई रमेश की टीम ने 839.5 अंक अर्जित करके पहला रैंक हासिल किया और एक करोड़ रुपए से ज़्यादा की रक़म अपने नाम कर ली.

पिता का कैंसर से हो गया था निधन
रमेश के मामा बिट्टू राणा रोनहाट में दुकान करते है. उन्होंने बताया कि कुछ वर्ष पहले ही कैन्सर की बीमारी के चलते रमेश अपने पिता को खो चुके हैं, जिसके बाद से पूरे परिवार की ज़िम्मेवारी रमेश के कंधों पर आ गई है. उनके परिवार में मां और 3 बहनों के साथ उनका एक छोटा भाई भी है. परिवार की आर्थिक स्थिति भी ज़्यादा बेहतर नहीं है. खेती बाड़ी और मेहनत-मज़दूरी से ही परिवार के भरण पोषण और घर खर्च का काम चलता है. ड्रीम इलेवन से रमेश रातों-रात करोड़पति बन गए है अब वो अपने भाई और बहनों को अच्छी शिक्षा देने सहित परिवार की अन्य ज़रूरतों को बेहतर तरीक़े से पूरा कर पाएंगे.

खाते में आए 83 लाख रुपये, खूब मिली बधाई
रमेश चंद ने बताया कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वो ड्रीम इलेवन पर इतनी बड़ी रक़म अपने नाम करेंगे. उनके मुताबिक़ 30 प्रतिशत टैक्स काटने के बाद 83 लाख रुपए उनके बैंक खाते में ट्रांसफ़र हो गए हैं. ड्रीम इलेवन से जीते इन पैसों का वो क्या करेंगे, इस सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि फ़िलहाल इस बारे में कुछ सोचा नहीं हैं.

Tags: Cricket, Dream 11, Dream 11 team prediction, Himachal pradesh, IPL, Shimla News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर