MC शिमला ने निजी हाथों में सौंपा मशहूर बुक कैफे, पहले चलाते थे कैदी

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 12, 2019, 6:37 PM IST
MC शिमला ने निजी हाथों में सौंपा मशहूर बुक कैफे, पहले चलाते थे कैदी
शिमला. अब कैदी नहीं दिखेंगे इस बुक कैफे को चलाते हुए.

Shimla Book Cafe: मौजूदा समय में शहर का पहला बुक कैफे कैथू जेल के केदी चला रहे थे, लेकिन अब इसे निगम ने आऊअसोर्स कर दिया है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के शिमला (Shimla के रिज मैदान (Ridge Ground) के पास मशहूर बुक कैफे (Shimla Book Cafe) को नगर निगम ने निजी हाथों में सौंप दिया है. शिमला में फूड चेन चलाने वाले कारोबारी अब को 10 साल के लिए बुक कैफे को लीज पर दिया गया है. इससे एमसी को सालाना इससे 13 लाख 77 हजार रुपए की आमदनी होगी.

इनके टेंडर खोले गए
गुरुवार को रोटरी टाऊन हाल में एमसी (MC) ने शहर में 16 दुकानों, छोटी बड़ी-कार पार्किग सहित बुक कैफे के संचालन को लेकर टैंडर खोले. इसमें सबसे पहले टका बैंक (Takka Bench) पर निगम के बुक कैफे के लिए निविदाएं खोली गई, जिसमें शिमला के एक फूड चेन काराबारी को बुक कैफे ठेके पर दे दिया गया.

5 साल में फीस में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी

इसके तहत एमसी 5 साल में फीस में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी करेगी. मौजूदा समय में शहर का पहला बुक कैफे कैथू जेल के केदी चला रहे थे, लेकिन अब इसे निगम ने आऊअसोर्स कर दिया है. इसके अलावा एमसी की ढली में दुकानों के लिए 27 आवेदन प्राप्त हुए थे. एमसी की अधिकतर दुकानों के लिए टेंडर प्राप्त हुए है, जिसे आगे प्रशासन ने ठेके पर दे दिया है.

दुकानों को भी आबंटित किया
शहर की विभिन्न जगहों पर नगर निगम दुकानों कनलोग, ढली, समरहिल, सिमिट्री, बालूगंज में 16 दुकानें खाली पड़ी थी, जिसे आंबटित कर दिया गया है. वहीं निगम की मैट्रोपोल कैंटीन से भी सालाना 2 लाख रुपए की कमाई होगी.
Loading...

पार्किंग चलाने के लिए नहीं मिला ठेकेदार
नीलामी में निगम की पार्किंग को चलाने के लिए कोई भी ठेकेदार आगे नहीं आया है. शहर में रोड साइड पार्किंग खलीनी, इसमें 44 वाहनों को पार्क करने की क्षमता है, इसे एक वर्ष के लिए ठेके पर देने का निविदाएं मांगी गई थी. इसके अलावा, लिफ्ट कार्ट रोड पर 15 वाहनों, रिड़का टूटीकंडी, इसमें 80 वाहन, निगम कार पार्किग खलीनी में 15 वाहन, निगम कार पार्किंग एसडीए कांपलैक्स में 21 छोटे वाहन, टिट्ला होटल जाखू (दो मंजिल) 27 वाहन पार्क करने की क्षमता है, इनके के लिए निविदाएं मांगी थी, लेकिन एमसी के पास कोई भी आवेदन नहीं पंहुचा है। इसके लिए दोबारा से टेंडर कॉल किए जाएगे. शहर में एमसी की अपनी 467 होर्डिंग साईट्स है. नगर निगम प्रत्येक होर्डिंग का विज्ञापनकर्ता से राशि वसूल करता है, जिस नगर निगम छह महीने और एक साल की अवधि के लिए आबंटित करता है.

ये भी पढ़ें: जल्दी नहीं, हिमाचल में अध्ययन के बाद लागू होगा नया मोटर वाहन एक्ट: सीएम

नवविवाहित बेटी को ससुराल छोड़ लौट रहे पिता की सड़क हादसे में मौत, 2 घायल

वायरल लेटर पर विपिन सिंह परमार ने कहा, घिनौनी चाल चलने वाले जल्द होंगे बेनकाब

हिमाचल में सामान्य से कम बरसा मॉनसून, सितंबर अंत में होगा रुखसत

मां ने फोन पर बात करने से रोका तो 8वीं की छात्रा ने लगाया फंदा, मौत

युवक को सांप ने डंसा तो इलाज कराने के बजाए बनाया VIDEO, मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 6:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...