अपना शहर चुनें

States

शिमला ग्रामीण : फिर उछला जंगली जानवरों और बंदरों का मुददा

शिमला में बंदरों का आतंक.
शिमला में बंदरों का आतंक.

शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र प्रदेश की हॉट सीट में शामिल है. वैसे तो यहां सीएम वीरभद्र सिंह विधायक हैं. इस बार उनके बेटे विक्रमादित्य सिंह चुनाव मैदान में है. बीजेपी ने शिक्षाविद प्रमोद शर्मा को यहां से उतारा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2017, 12:11 PM IST
  • Share this:
हिमाचल विधानसभा चुनाव की बिसात बिछ चुकी है. राजनेता अब घर-घर जाकर लोगों से वोट मांगने में जुटे हैं. जहां उन्हें मतदाताओं के सवालों से भी दो चार होना पड़ रहा है. शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में ग्राउंड जीरो पर पहुंच न्यूज 18 हिमाचल ने लोगों की मूलभूत समस्याओं का जायजा लिया.

हिमाचल में सियासी गर्मी बढ़ने पर पार्टियों द्वारा वादे और दावे किए जा रहे हैं. लेकिन जनता राजनेताओं की बातों पर विश्वास करेगी या नहीं, क्योंकि समस्याओं का अंबार है. न्यूज-18 हिमाचल ने शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के ग्राउंड जीरो पर जाकर लोगों की राय जानी.

शिमला ग्रामीण की कोट पंचायत में लोगों ने एक सुर में सिंचाई सुविधाओं के अलावा गांव में जंगली जानवरों और बंदरों की समस्या को बड़ी समस्या के तौर पर गिनाया.



बबूल और टेक चंद, स्थानीय निवासी, ने कहा कि यहां बंदर किसानों की खून पसीने से तैयार किए कददू को खा रहे हैं. अब ऐसा कददू लेकर किसान कैसे बाजार जाए. लेकिन हुक्मरानों को कई फर्क नहीं पड़ रहा है.
वे तो एक बार आकर वोट लेकर चले जाएंगे. फिर किसान का कददू बंदर खाए या सुअर. यहां महिलाएं भी चिंतित हैं. गोपालन की बड़ी बड़ी बातें करनी वाली सरकारें आती हैं और जाती हैं। लेकिन पशुपालकों के दूध का उचित दाम उन्हें नहीं दिला पाती हैं. महिलाओं को भी इसी बात की टीस है.

शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र प्रदेश की हॉट सीट में शामिल है. वैसे तो यहां सीएम वीरभद्र सिंह विधायक हैं. इस बार उनके बेटे विक्रमादित्य सिंह चुनाव मैदान में है. बीजेपी ने शिक्षाविद प्रमोद शर्मा को यहां से उतारा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज