लाइव टीवी

Coronavirus: कंडा जेल के कैदियों ने बनाए 5 हजार मास्क, 10 रुपये में यहां से खरीदें
Shimla News in Hindi

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: March 18, 2020, 4:16 PM IST
Coronavirus: कंडा जेल के कैदियों ने बनाए 5 हजार मास्क, 10 रुपये में यहां से खरीदें
शिमला में कंडा जेल के कैदियों ने बनाए मास्क.

डीसी ने बताया कि मास्क बनाने के लिए कंडा जेल विभाग से सम्पर्क किया गया है, जहाँ प्रशिक्षित कैदी डबल लेयर वाले मास्क तैयार कर रहे हैं और प्रशासन रेड क्रॉस के सहयोग से काउंटर लगाकर 10 रुपए पर मास्क वितरित कर रहा है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) में कोरोना वायरस (Corona virus) के चलते मास्क और सेनेटाइजर की खपत बढ़ गई है. मास्क (Mask) की खपत को देखते हुए जिला प्रशासन ने शहर की सभी मेडिकल दुकानों में छापेमारी कर दुकानदारों को सख्त निर्देश जारी कर दिए हैं. दुकानों में मास्क की कमी को देखते हुए जिला प्रशासन ने डीसी ऑफिस (DC office) में काउंटर स्थापित कर लोगों को मास्क उपलब्ध करवाए जा रहे हैं. वहीं, प्रशासन को राहत देने के लिए कंडा जेल के कैदी आगे आए हैं. कैदियों ने 5 हजार मास्क बनाए हैं.

कीमत भी दोगुना
बुधवार को जिला प्रशासन ने रेडक्रॉस के सहयोग से मास्क वितरित काउंटर स्थापित किया गया, जिसमें मास्क लेने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी. लोगों का कहना है कि कोरोना वायरस के चलते जिला में मास्क की कमी देखी जा रही है जिसके चलते बाज़ार में मास्क और सेनेटाइजर लोगों को पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल रहे हैं. लोगों का कहना है कि बाज़ार में जो मास्क और सेनेटाइजर मेडिकल दुकानों में मिल रहे हैं, उनकी कीमत भी दोगुना हो गई है.

जेल में कैदियों ने बनाए मास्क.
जेल में कैदियों ने बनाए मास्क.




काउंटर की संख्या बढाई जाए


अब जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए काउंटर स्थापित कर दिया है, जिसमें 10 रुपये के हिसाब से मास्क मिल रहे हैं लोगों ने प्रशासन से मांग की है की मास्क वितरण काउंटर की संख्या बढाई जाए, ताकि लोगों को आसानी से मास्क मिल सके.

यह बोले डीसी
डीसी शिमला अमित कश्यप ने बताया कि कोरोना वायरस पूरे विश्व में एक माहामारी का रुप धारण कर चुकी है. अभी तक इस बीमारी की रोकथाम के लिए कोई दवा नहीं बन पाई हैस इसलिए संक्रमण से केवल बचाव और साफ़-सफाई से ही बचा जा सकता है. लोग मास्क और सेनेटाइजर का ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल कर रहे हैं. मास्क और सेनेटाइजर की खपत को देखते हुए दुकानों में भी मास्क की कमी देखी जा रही है, इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने डीसी ऑफिस में एक काउंटर खोलने का निर्णय लिया है.

शिमला में डीसी दफ्तर में बांटे गए मास्क.
शिमला में डीसी दफ्तर में बांटे गए मास्क.


जेल विभाग से किया था संपर्क
डीसी ने बताया कि मास्क बनाने के लिए कंडा जेल विभाग से सम्पर्क किया गया है, जहाँ प्रशिक्षित कैदी डबल लेयर वाले मास्क तैयार कर रहे हैं और प्रशासन रेड क्रॉस के सहयोग से काउंटर लगाकर 10 रुपए पर मास्क वितरित कर रहा है. उन्होंने बताया कि शुरूआती चरण में पांच हजार मास्क तैयार किए जा रहे है, जिन्हें शहर के विभिन्न स्थानों पर भी बांटा जाएगा.

कालाबाजारी न करने के निर्देश: डीसी
डीसी शिमला ने मेडिकल दुकानदारों को मास्क और सेनेटाइजर की कालाबाजारी न करने के निर्देश दिए हैं उन्होंने कहा कि यदि कोई दुकानदार कालाबाजारी करता हुआ पकड़ा जाता है तो उस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया प्रशासन की टीम लगातार शहर की सभी मेडिकल दुकानों का निरीक्षण कर रही हैं और हिदायत दे रही है कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए लोगों को सहयोग करे. दुकानों पर होर्डिंग लगाकर लोगों को जागरुक करें.

ये भी पढ़ें: Coronavirus: चीन वापस लौटाना चाहता है हिमाचल का ये NRI परिवार

Coronavirus: हिमाचल के सभी शक्तिपीठ मंदिरों के कपाट बंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 18, 2020, 4:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading