शिमला जिला परिषद अध्यक्ष चुनाव: 1 फरवरी को होगा फैसला, कांग्रेस अध्यक्ष राठौर हुए लाल

हिमाचल की राजधानी शिमला.

हिमाचल की राजधानी शिमला.

सीएम जयराम ठाकुर के दावे पर कुलदीप सिंह राठौर ने चुनौती देते हुए कहा कि अगर ऐसा है तो सीएम सूची जारी करें. राठौर ने कहा कि पंचायत चुनावों में भाजपा के ज्यादातर अधिकृत प्रत्याशी चुनाव हार गए हैं और निर्दलियों को अपना बताया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:19 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल में पंचायत समिति और जिला परिषद के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए भाजपा और कांग्रेस (‌BJP-Congress) अपनी-अपनी गोटियां फिट करने में लगी हुई हैं. अभी स्थिति साफ होने में समय लगेगा. शिमला जिले में जिला परिषद को लेकर कांग्रेस दावा कर रही है कि उसके पास बहुमत है. गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में कांग्रेस (Congress) समर्थित विजयी प्रत्याशियों की बैठक हुई, लेकिन अध्यक्ष और उपाध्यक्ष कौन होगा, इसको लेकर कोई नाम सामने नहीं आया.

शिमला जिले में जिला परिषद की 24 सीटें हैं. जिला अध्यक्ष यशवंत छाजटा का कहना है कि बैठक में 13 सदस्य शामिल हुए. आज ज्यादा चर्चा नहीं हुई है, एक फरवरी को फिर से बैठक होगी और उसमें सर्वसम्मति से फैसला लिया जाएगा. बैठक में जिला शिमला के चारों विधायक भी मौजूद रहेंगे. उन्होंने कहा कि 2-3 और सदस्य कांग्रेस के समर्थन में खड़े हैं, ऐसे में एक फरवरी को अंतिम फैसला लिया जा सकता है. बता दें कि 24 में से केवल चार ही सीटों पर भाजपा समर्थक जीतकर आए हैं.

Youtube Video


राठौर हुए लाल
जिला परिषद के नवनिर्वाचित सदस्यों की बैठक के दौरान कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सीएम पर बिफर गए. कांग्रेस के मुकाबले कई गुना प्रत्याशियों के जीतने के सीएम जयराम ठाकुर के दावे पर कुलदीप सिंह राठौर ने चुनौती देते हुए कहा कि अगर ऐसा है तो सीएम सूची जारी करें. राठौर ने कहा कि पंचायत चुनावों में भाजपा के ज्यादातर अधिकृत प्रत्याशी चुनाव हार गए हैं और निर्दलियों को अपना बताया जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा डरा-धमका कर जिला परिषद और पंचायत समिति पर कब्जा करने की कोशिश कर रही है.

राठौर ने लगाए आरोप

सरकार धन-बल का प्रयोग कर रही है. अधिकारियों को जीते हुए उम्मीदवारों के घर भेजा जा रहा है, उम्मीदवार के घर से कोई सरकारी नौकरी में है तो उसे ट्रांसफर की धमकी दी जा रही है. राठौर ने कहा कि अधिकारी लक्ष्मण रेखा पार न करें. साथ ही कहा कि बहुत से जिलों में पंचायत समिति और जिला परिषद के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के पद कांग्रेस समर्थित लोग काबिज होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज