VIDEO: CM से घर की गुहार दिलाने वाली राजो देवी को MC शिमला ने दिया आवास
Shimla News in Hindi

VIDEO: CM से घर की गुहार दिलाने वाली राजो देवी को MC शिमला ने दिया आवास
महिला ने रोते-रोते सीएम से गुहार लगाई थी.

Shimla MC Encroachment: निगम संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज ने बताया कि महिला ने एमसी की भूमि पर कब्जा जमाया था और ढारा अवैध बना हुआ था.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में राजधानी शिमला में नगर निगम शिमला (MC Shimla) द्वारा इन दिनों अवैध कब्जा धारियों के खिलाफ अभियान चलाया है. इसके तहत अवैध रुप से निगम की जमीन (Land) पर कब्जा करने वालों को खदेड़ा जा रहा है. इसी मुहिम के तहत निगम ने एक ऐसी वृद्धा का आवास भी तोडा है, जिसको लेकर शहर में बवाल मच गया है. निगम की कार्रवाई के बाद मामला मुख्यमंत्री जयराम (CM Jairam Thakur) तक कार्यक्रम के दौरान पहुंचा. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने निगम अधिकारियों से समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए थे.


निगम ने दी सफाई
उसके बाद निगम ने अपना स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि वृद्धा राजो देवी ने निगम की जमींन पर अवैध निर्माण किया था जिसे पार्किंग निर्माण के चलते खाली करवाया गया है और इसके अलावा निगम ने राजो देवी को दो कमरों का आवास बनाकर दिया गया है, जिसमें रज्जो देवी पिछले एक साल से रह रही है. लेकिन राजो देवी को जो आवास दिए गया था, उसके सेप्टिक टैंक को अब रज्जो देवी ने स्टोर रुम में शिफ्ट कर दिया है और सेप्टिक टैंक की पाईप लाइन खुले में रखी गई है, जिससे गंदगी फैलने की आशंका बनी है.
एमसी शिमला ने महिला को आवास दिया.




एमसी की भूमि पर कब्जा जमाया

निगम संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज ने बताया कि जो महिला मुख्यमंत्री के पास गई थी, उस महिला ने एमसी की भूमि पर कब्जा जमाया था और उस महिला का ढारा अवैध बना हुआ था. उन्होंने बताया कि अवैध कब्जे को लेकर निगम आयुक्त कोर्ट में चला हुआ था. इसके बाद एक साल पहले पार्किंग निर्माण के चलते उसे हटा दिया गया था, लेकिन फिर भी एमसी ने मानवता के आधार पर दो कमरों का आवास बनाकर महिला को रहने के लिए दिया. इसे अब लीज पर दिया जाएगा. उन्होंने बताया कि जो आरोप महिला ने मुख्यमंत्री के समक्ष लगाये थे, वे बिलकुल निराधार हैं, जिस पर अब निगम खुले में गंदगी फैलाने पर कार्रवाई करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज