झुका नगर निगम शिमला, पुरानी दरों पर ही वसूला जाएगा सीवरेज सेस

चौतरफा दबाव के बाद नगर निगम शिमला ने सीवरेज सेस में की गई बढ़ोतरी को वापस ले लिया है.

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 1, 2019, 9:25 AM IST
झुका नगर निगम शिमला, पुरानी दरों पर ही वसूला जाएगा सीवरेज सेस
झुका नगर निगम शिमला, पुरानी दरों पर ही वसूला जाएगा सीवरेज सेस
Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 1, 2019, 9:25 AM IST
चौतरफा दबाव के बाद नगर निगम शिमला ने सीवरेज सेस में की गई बढ़ोतरी को वापस ले लिया है. नगर निगम की बुधवार को हुई मासिक बैठक में इस संबंध में फैसला लिया गया. अब पहले की तरह ही पानी के बिल पर 30 प्रतिशत सीवरेज सेस लिया जाएगा. मेयर कुसुम सदरेट की अध्य्क्षता में हुई बैठक में इस फैसले पर मुहर लगा दी गई. गौरतलब है कि शिमला जल प्रबंधन निगम ने सीवरेज सेस में भारी बढ़ोतरी कर दी थी. इसे लेकर कांग्रेस माकपा और शिमला नागरिक सभा ने गहरा रोष जताया था. शिमला नागरिक सभा ने इस मामले को लेकर बुधवार को नगर निगम के सदन के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया. पूर्व मेयर संजय चौहान की अध्य्क्षता में हुए इस प्रदर्शन में बढ़े हुए सीवरेज सेस को लेकर रोष व्यक्त किया गया.

इससे पूर्व निगम के पूर्व पार्षदों ने भी सीवरेज सेस और कूड़े के बढ़ी दरों को वापस करने की मांग की थी. साथ ही पार्किंग की समस्या को लेकर निगम के अधिकारियों से मुलाकात की थी. इसी के चलते निगम ने मासिक बैठक में सीवरेज सेस को दोबारा पुरानी दरों पर लेने का फैसला लिया. वहीं शहर में पार्किंग समस्या को दूर करने के लिए निगम अब मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मिलेगा और जिला प्रशासन द्वारा बार-बार की जा रही आपतियों को समाप्त करने की मांग करेगा.

कूड़े के बिल ऑनलाइन वसूले जाएंगे

मासिक बैठक में कूड़े के बिल ऑनलाइन वसूलने पर भी लगी मुहर


मेयर कुसुम सदरेट ने बताया कि शहर में पार्किंग समस्या को दूर करने के लिए नगर निगम ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ मिलकर पार्किंग स्थलों को चिह्नित किया था. लेकिन डीसी शिमला की बार-बार आपति के बाद अभी तक शहर के किसी भी क्षेत्र में येलो लाइन लगाने पर मुहर नहीं लग पाई है. इसलिए अब इस मामले को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा जाएगा ताकि शहरवासियों को पार्किंग समस्या से निजात मिल सके. वहीं मासिक बैठक में कूड़े के बिलों को ऑनलाइन जमा करने पर भी मुहर लगी. मेयर कुसुम सदरेट का कहना है कि निगम ने कूड़े के बिल जमा करने के लिए ऐप्प तैयार कर दी है. अब शहरवासी घर बैठे ही कूड़े का बिल ऑनलाइन ही जमा करवा सकेंगे.

ये भी पढ़ें - हिमाचल में मूसलाधार बारिश, अब तक 22 मौतें, 138 करोड़ नुकसान

ये भी पढ़ें - फर्जी लोन:विजिलेंस का प्रॉपर्टी डीलर व अधिकारी के यहां छापा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 1, 2019, 9:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...