लाइव टीवी

मेयर के चुनाव को लेकर बीजेपी में फंसा पेच, अब तक फाइनल नहीं हुआ कैंडिडेट

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 15, 2019, 7:19 PM IST
मेयर के चुनाव को लेकर बीजेपी में फंसा पेच, अब तक फाइनल नहीं हुआ कैंडिडेट
शिमला - वर्तमान मेयर कुसुम सदरेट का कार्यकाल पूरा हो चुका है.

बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती (Satpal Singh Satti) का दावा है कि बीजेपी (BJP) के पास बहुमत है. 34 में से 21 पार्षद बीजेपी के हैं. अगले मेयर (Mayor) और डिप्टी मेयर (Dy Mayor) के लिए उम्मीदवार का चयन बीजेपी के तमाम नेताओं की राय से होगा. उधर कांग्रेस (Congress) ने भी साफ किया है कि वह चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारेगी. कांग्रेस के पास 12 पार्षदों का समर्थन है.

  • Share this:
शिमला. नगर निगम शिमला (Municipal Corporation Shimla) को 17 दिसंबर को नया सरदार मिलने वाला है. शहर के प्रथम नागरिक (Mayor) के लिए चुनाव होने जा रहे हैं. ढाई साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद नगर निगम शिमला के मेयर और डिप्टी मेयर के लिए नियमों के तहत फिर से पार्षदों में से चुनाव होना है. इस वक्त बीजेपी (BJP) का नगर निगम मेयर और डिप्टी मेयर पद पर कब्जा है, लेकिन अब मेयर सामान्य वर्ग से बनना है जिसके लिए जोर आजमाइश चल रही है. बीजेपी में भी मेयर को लेकर पेंच फंसा है कि किसे मेयर और डिप्टी मेयर बनाया जाए. वर्तमान मेयर कुसुम सदरेट (Kusum Sadret) का फिर से मेयर बनाया जाना तकरीबन नामुमकिन है, क्योंकि इसके लिए एक्ट में बदलाव करना होगा, जो फिलहाल संभव नहीं है. ऐसे में कई और नाम मेयर और डिप्टी मेयर के लिए उभर कर सामने आए हैं. इनमें वर्तमान डिप्टी मेयर राकेश शर्मा का नाम भी प्रमुख है.

बीजेपी को सता रहा है क्रॉस वोटिंग का डर 

बीजेपी पार्षद संजीव ठाकुर, रूपा कौंडल, बृज सूद, शैलेंद्र चौहान, सुनील धर सहित किरण बाबा भी रेस में हैं. इन्हीं में से कोई डिप्टी मेयर भी बनेगा. ऐसे में बीजेपी फूंक फूंककर कदम रख रही है. वैसे बीजेपी का दावा है कि उसके पास 21 पार्षदों का पूर्ण समर्थन प्राप्त है, लेकिन यह भी सच्चाई है कि बीजेपी के इन
पार्षदों में अंदरूनी लड़ाई भी जगजाहिर है. ऐसे में बीजेपी को क्रॉस वोटिंग का डर भी सता रहा है.

कांग्रेस के पास 12 पार्षदों का समर्थन

उधर कांग्रेस ने भी साफ किया है कि वह चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारेगी. कांग्रेस के पास 12 पार्षदों का समर्थन है. इसके अलावा एक पार्षद CPIM से भी है. ऐसे में क्रॉस वोटिंग हुई तो कांग्रेस के भी वारे न्यारे हो सकते हैं. फिलहाल निगम की सरदारी को लेकर सरकार से लेकर संगठन भी गंभीर है. सूत्रों के
मुताबिक बीजेपी 16 दिसंबर को ही अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा करेगी. इससे पहले बैठकों का दौर चलने वाला है. जो पार्षद रेस में हैं उन्हीं को मनाने की बीजेपी कोशिश करेगी.
बीजेपी का 20 पार्षदों के साथ होने का दावा.


'बीजेपी का उम्मीदवार ही मेयर और डिप्टी मेयर होगा'

बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती का दावा है कि बीजेपी के पास बहुमत है. 34 में से 21 पार्षद बीजेपी के हैं. अगले मेयर और डिप्टी मेयर के लिए उम्मीदवार का चयन बीजेपी के तमाम नेताओं की राय से होगा. बीजेपी का उम्मीदवार ही मेयर और डिप्टी मेयर होगा. जो काम अब तक हुए हैं उन्हें आगे ले जाया जाएगा.
कांग्रेस की ओर से उम्मीदवार उतारे जाने पर सत्ती ने कहा कि यह उनका अधिकार है, लेकिन जीत बीजेपी की होगी. गौरतलब है कि नगर निगम बनने के बाद पहली बार बीजेपी नगर निगम शिमला पर काबिज हुई है. ऐसे में यहां पर सीएम जयराम ठाकुर समेत पूरी भाजपा की साख दांव पर लगी हुई है.

ये भी पढ़ें - मंडी : हाफ मैराथन से दिया गया नशे के खिलाफ व पर्यावरण को बचाने का संदेश

ये भी पढ़ें - मनाली: विंटर कार्निवाल की तैयारी को लेकर महिलाओं ने किया कुल्लवी नृत्य

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 15, 2019, 7:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर