शिमला: संजौली की काली ढांक से छलांग लगाने वाली युवती की 5 दिन बाद IGMC में मौत
Shimla News in Hindi

शिमला: संजौली की काली ढांक से छलांग लगाने वाली युवती की 5 दिन बाद IGMC में मौत
हिमाचल की राजधानी शिमला का संजौली इलाका.

Sanjauli Girl Suicide: शिमला पुलिस (Shimla Police) ने परिजनों से पूछताछ की और पता चला कि वह मां की मौत (Death) के बाद से ही गुमसुम (Sad) थी. ज्यादा बातचीत नहीं करती थी. युवती के सिर (Head) और पैर पर चोटें लगी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 12:21 PM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के उपनगर संजौली (Sanjauli) में काली ढांक से सुसाइड (Suicide) का प्रयास करने वाली युवती की मौत हो गई है. इलाज के दौरान घटना के पांच दिन बाद युवती ने शिमला (Shimla) के आईजीएमसी (IGMC) में दम तोड़ दिया है.
जानकारी के अनुसार, संजौली के नवबहार के पास काली ढांक से छलांग लगाने वाली युवती ने शुक्रवार तड़के 2 बजकर 05 मिनट पर अंतिम सांस ली. गौर रहे कि युवती ने 9 अगस्त को शाम के समय काली ढंग से छलांग लगा आत्महत्या करने की कोशिश की थी और उसे गंभीर हालत में उसे पुलिस ने आईजीएमसी अस्पताल भर्ती करवाया था. यहां युवती का उपचार चल रहा था. हालांकि युवती बयान देने के हालत में नहीं थी.

पुलिस ने बरामद किया था सुसाइड नोट
युवती के पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है, जिसमें लिखा था कि मैं अपनी जिंदगी से दुखी हूं और मेरी मौत का जिम्मेदार कोई भी नहीं है. गौर रहे कि 26 वर्षीय यह युवती संजौली के सिमेट्री की निवासी है। युवती का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है.
राहगीर ने पुलिस को दी सूचना
एक राहगीर ने लड़की को छलांग लगाते देखा और तुरंत पुलिस को सूचना दी थी. पुलिस जब मौके पर पहुंची तो लड़की की सांसे चल रही थी और उसे आईजीएमसी भर्ती किया गया था. बीते पांच दिन से लड़की की हालत नाजुक बनी थी. पुलिस को मौके से लड़की का बैग मिला था, जिसमें सुसाइड नोट था.


मां की मृत्यु के बाद से परेशान थी युवती
परिजनों से पूछताछ में पता चला था कि वह मां की मृत्यु के बाद से ही वो चुप-चुप रहती थी. ज्यादा बातचीत नहीं करती थी. युवती के सिर और पैर में ज्यादा चोट आई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज