शिमला सीट: 9 हजार फीट पर पोलिंग बूथ, 14 किमी पैदल चल डोडरा क्वार पहुंचेंगी पोलिंग पार्टियां

जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश्वर गोयल ने बताया कि शिमला संसदीय क्षेत्र में पंडार सबसे ऊँचा मतदान केंद्र है, जो समुद्र तल से करीब नौ हजार फीट की उंचाई पर स्थित हैं और इस मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए चुनावी पार्टियों को वीरवार को रवाना किया जाएगा.

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 15, 2019, 5:11 PM IST
शिमला सीट: 9 हजार फीट पर पोलिंग बूथ, 14 किमी पैदल चल डोडरा क्वार पहुंचेंगी पोलिंग पार्टियां
शिमला का डोडरा क्वार हिमाचल का आखिरी गांव है.
Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: May 15, 2019, 5:11 PM IST
मौसम विभाग का पूर्वानुमान डोडरा क्वार समेत ऊँचे बर्फ बाहुल इलाकों में चुनाव सम्पन्न करवाने में मुश्किलें पैदा कर सकता है. हिमाचल प्रदेश में 21 मई तक बारिश होने का पूर्वानुमान है.

ऐसे में शिमला संसदीय क्षेत्र के सबसे अधिक नौ हजार फीट की उंचाई पर स्थित पंडार पोलिंग बूथ समेत चौपाल, नेरवा और सिरमौर के कई मतदान केन्द्रों तक चुनाव कर्मियों को आने जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. खासकर, पंडार पोलिंग बूथ तक सड़क की सुविधा न होने से मतदान कर्मियों को 14 किलोमीटर पैदल चलकर मतदान केंद्र तक पहुंचना होगा. गौतरलब है कि डोडरा क्वार शिमला से करीब 145 किमी है. और यहां पहुंचे के लिए 30 से 35 किमी पैदल चलना पड़ता है.



इसी तरह शिमला संसदीय क्षेत्र में दर्जनों मतदान केंद्र ऐसे हैं, जहाँ सड़क की सुविधा न होने से बारिश चुनाव प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न कर सकती है. चुनाव आयोग के मुताबिक़, दूरदराज के मतदान केन्द्रों के लिए गुरुवार को आखिरी चरण के प्रशिक्षण के बाद पोलिंग पार्टियाँ रवाना कर दी जाएंगी, जबकि नजदीक के मतदान केन्द्रों के लिए 17 और 18 मई को पोलिंग पार्टियाँ भेजी जाएंगी.

गुरुवार को जाएंगी पोलिंग पार्टियां : डीसी

जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश्वर गोयल ने बताया कि शिमला संसदीय क्षेत्र में पंडार सबसे ऊँचा मतदान केंद्र है, जो समुद्र तल से करीब नौ हजार फीट की उंचाई पर स्थित हैं और इस मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए चुनावी पार्टियों को वीरवार को रवाना किया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए ड्यूटी में तैनात कर्मियों को करीब 14 किलोमीटर पैदल चलना होगा. जो किसी चुनौती से कम कम नहीं है.

यहां सबसे कम वोटर हैं
डीसी ने बताया कि इसके अलावा, शिमला संसदीय सीट के लिए होने वाले मतदान के लिए सोलन जिला के बिलांबली पोलिंग बूथ पर 1370 सबसे ज्यादा मतदाता हैं और सबसे कम शिमला के समरहिल पोलिंग स्टेशन पर मात्र 71 मतदाता अपने मत का प्रयोग करेंगे. उन्होंने बताया कि लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करने के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं.ये भी पढ़ें: PHOTOS: खज्जियार में भारी भूस्खलन, लापता चालक की तलाश जारी

इतिहास में पहली बार किसी पीएम को ‘नीच’ कहा गया: स्मृति ईरानी

सुरेश कश्यप: अपने साढ़ू का ही टिकट काटा, अब फौजी से ही जंग

आनी प्रधान के विकास कार्यों के खर्च में गड़बड़ी, सस्पेंड

हिमाचल में मौसम: रोहतांग में बर्फबारी, 4 दिन तक मौसम खराब
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार